कांग्रेस में 'लाइट' जिम्मेदारी चाहते हैं शक्ति सिंह गोहिल, आलाकमान से बिहार प्रभारी पद से मुक्ति की गुजारिश


बिहार कांग्रेस के प्रभारी और कांग्रेस के बड़े नेता शक्ति सिंह गोहिल संगठन में फिलहाल कोई छोटा रोल चाहते हैं. इसके लिए उन्होंने निजी कारणों का हवाला दिया है. इसके लिए शक्ति सिंह गोहिल ने कांग्रेस आलाकमान को संदेश भी भेजा है और गुजारिश की है कि उन्हें बिहार कांग्रेस प्रभारी के पद से मुक्त किया जाए और संगठन में 'लाइट' जिम्मेदारी दी जाए. 

बता दें कि जब बिहार में कांग्रेस ने विधानसभा का चुनाव लड़ा तो शक्ति सिंह गोहिल ही पार्टी के प्रभारी थे. इस चुनाव में कांग्रेस का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था. कांग्रेस के गलियारों में ये भी खबरें आई कि शक्ति सिंह गोहिल से प्रभारी का पद लिया भी जा सकता है. इस बीच शक्ति सिंह गोहिल ने खुद इस पद को छोड़ने की पेशकश कर दी है. बिहार चुनाव के दौरान शक्ति सिंह गोहिल कोरोना पॉजिटिव भी हो गए थे. 

निजी कारणो से मैंने कांग्रेस आलाकमान से गुज़ारिश कि है की मुजे लाइट जिम्मेवारी दी जाए और बिहार के प्रभार से मुक्त किया जाए।

शक्ति सिंह गोहिल ने ट्वीट कर कहा, "निजी कारणों से मैंने कांग्रेस आलाकमान से गुजारिश कि है कि मुझे लाइट जिम्मेवारी दी जाए और बिहार के प्रभार से मुक्त किया जाए." शक्ति सिंह गोहिल ने कहा है कि उन्हें कुछ महीनों के लिए जल्द से जल्द इस जिम्मेदारी से अलग किया जाए. शक्ति सिंह गोहिल राज्यसभा सांसद भी हैं. शक्ति सिंह गोहिल गुजरात सरकार में मंत्री और नेता प्रतिपक्ष भी रह चुके हैं. 

इस बार बिहार में कांग्रेस ने 70 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ा था, लेकिन पार्टी केवल 19 सीटों पर ही जीत पाई. कांग्रेस के प्रदर्शन पर सहयोगी राष्ट्रीय जनता दल के नेताओं ने भी टिप्पणियां की थीं.  


ADVERTISEMENT