भारत-बांग्लादेश सीमा पर तस्‍करी: केले की पत्तियों व बंबू झाड़ियों में छिपाये गये थे हथियार


सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के जवानों ने बंगाल में भारत-बांग्लादेश सीमा के पास तस्करी को नाकाम करते हुए दो अलग-अलग घटनाओं में देसी राइफल, दो पिस्टल, गोला बारूद व बम जब्त किया है। इन हथियारों की बांग्लादेश में तस्करी की जानी थी। अधिकारियों ने बताया कि पहली घटना बॉसमारी सीमा चौकी इलाके की है। 

 7 अगस्त को यहां 141वीं वाहिनी, के जवानों ने बीएसएफ इंटेलिजेंस ब्रांच के इनपुट पर तलाशी अभियान चलाया। इस दौरान पार्टी कमांडर इंस्पेक्टर प्रेम राम ने ऑब्जरवेशन पोस्ट के पास से एक बैग बरामद किया। बैग को केला बागान में केले की पत्तियों तथा बंबू झाड़ियों में छुपाया गया था। बैग को बीओपी में लाकर खोला गया तो इसमें से एक देश में निर्मित 11.7 मि.मी. बोर का साइलेंसर राइफल बरामद किया गया। बीएसएफ अधिकारियों का कहना है कि सीमा रेखा के इलाके में साइलेंसर वाली राइफल का मिलना गंभीर चिंता का विषय है। 

उपद्रवियों के पास इस तरह के हथियारों का होना सीमावर्ती क्षेत्र के लोगों के लिए भी जान का खतरा हो सकता है। दूसरी घटना मुर्शिदाबाद जिले के निमतिता सीमा चौकी इलाके की है। 7 अगस्त को ही इस क्षेत्र में 78वीं वाहिनी के जवानों ने एक ऑपरेशन चलाकर दो देसी पिस्टल, गोला बारूद और 4 देसी बम बरामद किया। अधिकारियों ने बताया कि बीएसएफ के खुफिया विभाग से सूचना मिली कि हथियारों और गोला बारूद को एक स्थानीय तस्कर द्वारा गांव बक्शीपारा से धूलियान में लाना था। सूचना मिलते ही त्वरित कार्रवाई करते हुए कंपनी कमांडर बीओपी नीमतिता अमोद कुमार (असिस्टेंट कमांडेंट) ने अपनी टुकड़ी समेत बख्शीपारा गांव में निगरानी शुरु की। तस्कर की पहचान करने के बाद बीएसएफ पार्टी ने उसे रोका, परंतु तस्कर पकड़े जाने के डर से वहां से भागने लगा।

बीएसएफ पार्टी ने गांव के भीतर के इलाके में लगभग 400 मीटर तक उसका पीछा किया लेकिन तस्कर गांव की तंग गलियों और घनी आबादी का फायदा उठाकर भागने में सफल रहा। भागते समय तस्कर ने एक गली में अपना बैग फेंक दिया था। बीएसएफ ने बैग को कब्जे में लेकर उसे खोला तो उसमें से दो देसी पिस्टल, 4 अम्मुनिशन (गोला बारूद) व 4 देसी बम बरामद किया गया। बीएसएफ ने आगे की कार्रवाई के लिए जब्त हथियारों को सूती थाने को सौंप दिया है। इधर, सीमावर्ती क्षेत्र से बड़ी संख्या में इन अवैध हथियारों व गोला बारूद की जब्ती के बाद बीएसएफ के दक्षिण बंगाल फ्रंटियर मुख्यालय, कोलकाता के वरिष्ठ अधिकारियों ने जवानों की प्रशंसा की है।

ADVERTISEMENT