कोरोनाः लालू यादव के स्वास्थ्य को लेकर सरकार अलर्ट, दूसरी जगह किया जाएगा शिफ्ट


चारा घोटाले में सजायाफ्ता और रिम्स के पेइंग वार्ड में इलाज करा रहे आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के सेवादारों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद प्रदेश सरकार उनकी सेहत को लेकर सचेत हो गई है. कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए लालू प्रसाद यादव को रिम्स डायरेक्टर के फाइव स्टार बंगले में शिफ्ट करने की तैयारियां चल रही हैं.

इस संबंध में शुक्रवार को रिम्स अधीक्षक प्रोफेसर डॉक्टर विवेक कश्यप ने कहा कि हम लोगों को लालू प्रसाद यादव का इलाज करने वाले फिजीशियन डॉक्टर का एक पत्र मिला है, जिसमें यह कहा गया कि लालू प्रसाद यादव कोविड नेगेटिव हैं और उनके सेवादार लगातार पॉजिटिव पाए जा रहे हैं. ऐसी परिस्थिति में लालू प्रसाद यादव को रिम्स के नजदीक शिफ्ट करने की तैयारी की जा रही है.

डॉक्टर ने बताया कि जहां लालू प्रसाद यादव रह रहे हैं, उसके ऊपर वाली बिल्डिंग में भी कोरोना मरीजों को रखा गया है. कुल मिलाकर बात यह है कि लालू प्रसाद यादव चारों ओर से संक्रमित मरीजों से घिरे हैं, लेकिन वो अपने कमरे में ही रहते हैं. फिर भी उनकी सुरक्षा को देखते हुए हम लोगों ने बिरसा मुंडा जेल के अधीक्षक को पत्र लिखा है, जिसकी कॉपी हमने रांची एसएसपी और रिम्स के डायरेक्टर को भी दी है. साथ ही उसकी कॉपी आईजी जेल को भी भेजी गई है.

डॉक्टर ने कहा कि हम लोगों ने डायरेक्टर के बंगले को चिन्हित किया है. परमिशन मिलते ही उनको वहां शिफ्ट कर दिया जाएगा, जो कि हमारे परिसर के ठीक सामने होगा और हमारे स्वास्थ्य कर्मी उनकी देखभाल ठीक रूप से कर सकेंगे.

सूत्रों के अनुसार लालू प्रसाद यादव को शिफ्ट करने के लिए प्रशासनिक अनुमति मिल गई है, जिसको लेकर रांची जिले के सिटी एसपी सौरभ कुमार ने रिम्स के निदेशक बंगलों का निरीक्षण किया और वहां पर सुरक्षा का जायजा लिया. सुरक्षा का जायजा लेने के बाद रांची के सिटी एसपी सौरव कुमार ने जानकारी दी कि लालू प्रसाद यादव को शिफ्ट करने का प्रस्ताव प्रशासन को दिया गया है.

इसके मद्देनजर सुरक्षा के सभी बिंदुओं की जांच की जा रही है. आपको बता दें कि कोरोना के खतरे को देखते हुए लालू प्रसाद यादव को डायरेक्टर के बंगले में शिफ्ट सिफारिश की गई है. अब बस थोड़ी बहुत प्रशासनिक प्रक्रिया बाकी है, जिसे जल्द ही पूरा कर लालू प्रसाद यादव को शिफ्ट कर दिया जाएगा.

ADVERTISEMENT