कोरोना का फायदा उठा चीन ने की भारत की जमीन कब्जाने की कोशिश: अमेरिका


अमेरिका लगातार चीन के खिलाफ हमलावर है और हाल ही में लद्दाख बॉर्डर पर हुए विवाद को लेकर भारत का खुलकर साथ दे रहा है. इस बीच अमेरिकी हाउस ऑफ रेप्रेसेंटेटिव ने एक प्रस्ताव पास किया है, जिसमें लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर चीन की आक्रामकता की आलोचना की गई है और भारत को उकसाने की बात की गई है. ये प्रस्ताव नेशनल डिफेंस ऑथराइजेशन एक्ट के तहत पास किया गया है.

दरअसल, कांग्रेसमैन स्टीव चैबेट, एमी बेरा समेत कुछ अन्य रेप्रेसेंटेटिव ने इस प्रस्ताव को पेश किया था. जिसमें अपील की गई है कि चीन को अपनी आक्रमकता कम करनी चाहिए और भारत के साथ बात करनी चाहिए. दोनों देशों के बीच 15 जून की झड़प के बाद तल्खी बढ़ी है, जिसमें भारत के बीस जवान शहीद हुए थे.

इस प्रस्ताव में जिन बातों पर ध्यान दिया गया है, उसमें चीन के द्वारा LAC, साउथ चाइना सी और अन्य पड़ोसी देशों के साथ आक्रामक रवैया, उनकी जमीन में घुसने की कोशिश की आलोचना की गई है. चीन पर आरोप लगाया गया है कि चीन भारत के साथ जबरन घुसपैठ की कोशिश कर रहा है, जो माहौल खराब करने वाला है.

सदन में चर्चा के दौरान कहा गया कि भारत अमेरिका का एक अहम पार्टनर है, वह सबसे बड़ा लोकतंत्र है. ऐसे में उसके साथ इस तरह का बर्ताव नहीं किया जा सकता है.

कांग्रेसमैन स्टीव ने कहा कि मैं भारत के साथ हूं, सदन से भी ऐसी ही अपील करता हूं. प्रस्ताव में चीन की पूरी तरह से पोल खोली गई है. LAC पर 5000 सैनिकों को इकट्ठा करना, भारत की जमीन में घुसना और फिर 20 जवानों को मारने की बात भी इसमें शामिल की गई है.

आपको बता दें कि इससे पहले भी कई सीनेटर और कांग्रेसमैन खुलकर भारत के समर्थन में अपनी बात कह चुके हैं. खुद अमेरिकी रक्षा मंत्री ने बीते दिनों भारत के रक्षा मंत्री से बात की थी और अमेरिका के समर्थन का भरोसा जताया था.


ADVERTISEMENT