Bengal: बंगाल भाजपा में अर्जुन सिंह बने उपाध्‍यक्ष, नेताजी के पौत्र चंद्र बोस को कोई पद नहीं


भाजपा ने पार्टी की बंगाल इकाई में बड़ा संगठनात्मक बदलाव किया है, जिसमें नेताजी सुभाष चंद्र बोस के पौत्र चंद्र बोस को कोई पद नहीं देकर एक तरह से उन्हें किनारा लगा दिया गया। वैसे भी लोकसभा चुनाव में हार के बाद से वह विभिन्न अवसरों पर पार्टी लाइन के खिलाफ बयान दे रहे थे। चंद्र बोस भाजपा बंगाल इकाई के उपाध्यक्ष थे, लेकिन नवीनतम सूची में उनका नाम नहीं है। उन्हें संगठन में कोई अन्य पद भी नहीं दिया गया है। उनके स्थान पर सांसद अर्जुन सिंह और सुभाष सरकार को उपाध्यक्ष बना कर पदोन्नति दी गई है। सांसद लॉकेट चटर्जी को पार्टी की राज्य इकाई की महासचिव नियुक्त किया गया है। इससे पहले जनवरी में दिलीप घोष को बंगाल इकाई के अध्यक्ष के रूप में फिर से चुना गया था।

फैशन डिजाइनर अग्निमित्रा पाल को महिला मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है। इससे पहले इस पद पर हुगली की सांसद लॉकेट चटर्जी थी। उन्हें राज्य महासचिव बनाया गया है। यह घोषणा करते हुए प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि मार्च में ही नई कमेटी का एलान होना था। परंतु, कोरोना महामारी की वजह से संभव नहीं हो सका था। बंगाल भाजपा में अब 12 उपाध्यक्ष और पांच महासचिव होंगे। उपाध्यक्ष के रूप में सुभाष सरकार, बिश्वप्रिया रायचौधरी, प्रताप बनर्जी, राजकमल पाठक, बापी मित्रा, रितेश तिवारी, जय प्रकाश मजूमदार, अर्जुन सिंह, अनिंद्य बनर्जी, दिपेन प्रमाणिक, भारती घोष और मफुजा खातून को नियुक्त किया गया है। वहीं, महासचिव के पद पर सायंतन बसु, लॉकेट चटर्जी, ज्योतिर्मय महतो, संजय सिंह और रतिंद्रनाथ बसु का नाम शामिल है।

बंगाल में राजनीतिक गतिविधियां शुरू करने की तैयारी में भाजपा

राज्य ब्यूरो,कोलकाताः बंगाल में लॉकडाउन में ढील दिए जाने के बाद भाजपा फिर से राजनीति गतिविधियां शुरू करने की तैयारी में है। 2021 के विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए राज्य भाजपा ने सोमवार को पिछले एक साल में मोदी सरकार की उपलब्धियों को लोगों तक पहुंचाने के लिए डोर टू डोर अभियान शुरू करने की बात कही है। भाजपा नेताओं का कहना है कि शारीरिक दूरी बना कर अभियान के दौरान केवल दो-दो सदस्य ही लोगों के दरवाजे पर जाएंगे। पार्टी कार्यकर्ताओं को यात्राओं के दौरान मास्क और दस्ताने पहनना अनिवार्य है होगा। कोरोना के प्रकोप के मद्देनजर शारीरिक दूरी बनाए रखने का सख्ती से पालन किया जाएगा। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि केंद्र में भाजपा सरकार की सफलता को उजागर करने के लिए न केवल राज्य के प्रत्येक बूथ क्षेत्र में डोर टू डोर अभियान चलाया जाएगा, बल्कि लोगों को बंगाल में तृणमूल सरकार की विफलताओं से भी अवगत कराया जाएगा।

हुगली में पचास तृणमूल नेता व कार्यकर्ता भाजपा में शामिल

राज्य में लॉकडाउन दौरान के दौरान भी राजनीतिक पाला बदल का दौर जारी रहा। कहीं भाजपा से तृणमूल तो कहीं तृणमूल से भाजपा। ताजा घटना हुगली के खानकुल में घटी। भाजपा नेताओं ने सोमवार को दावा किया है कि लगभग 50 तृणमूल नेता और कार्यकर्ता भाजपा में शामिल हुए हैं। हालांकि तृणमूल ने इसे महत्व देने से साफ इन्कार कर दिया है। 

ADVERTISEMENT