अमेरिका में हिंसा जारी, डोनाल्ड ट्रंप की धमकी के बीच 17 हजार नेशनल गार्ड की तैनाती


अमेरिका में अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद बवाल जारी है. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका की सड़कों पर सेना की तैनाती की धमकी दी है. इस बीच अमेरिका के 23 राज्यों में 17 हजार नेशनल गार्ड की तैनाती की गई है. नेशनल गार्ड को हिंसा रोकने के साथ-साथ राज्यों में कानून व्यवस्था को बनाए रखने की जिम्मेदारी दी गई है.

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि मैं कानून व्यवस्था वाला राष्ट्रपति हूं. हिंसा, लूटपाट, बर्बरता, हमले और अपमान को रोकने के लिए हजारों सशस्त्र सैनिकों को भेज रहा हूं. सैन्य कर्मी उन लोगों पर कार्रवाई करेंगे, जो संपत्ति को नुकसान पहुंचा रहे हैं. इस बीच अर्कांसस रिपब्लिकन सीनेटर टॉम कॉटन ने हिंसा की तुलना घरेलू आतंकवादी से की है.

गौरतलब है कि अमेरिका में हिंसा को रोकने के लिए 23 राज्यों में 17 हजार नेशनल गार्ड की तैनाती की गई है. सोमवार से नेशनल गार्ड अमेरिका की सड़कों पर उतर गए हैं और राज्यों में कानून व्यवस्था को बनाए रखने में मदद कर रहे हैं. इससे पहले कोरोना संकट के कारण सभी 50 राज्यों में 45 हजार नेशनल गार्ड की तैनाती की गई थी.

नेशनल गार्ड की तैनाती एरिजोना, अलास्का, कैलिफोर्निया, कोलोराडो, फ्लोरिडा, जॉर्जिया, इलिनोइस, इंडियाना, केंटकी, मिशिगन, मिनेसोटा, उत्तरी कैरोलिना, नेवादा, ओहियो, पेंसिल्वेनिया, दक्षिण कैरोलिना, दक्षिण डकोटा, टेनेसी, टेक्सास, यूटा, वर्जीनिया, वाशिंगटन और विस्कॉन्सिन में की गई है.

नेशनल गार्ड ब्यूरो के प्रमुख एयर फोर्स जनरल जोसेफ लेंगयेल ने कहा कि हम सबसे कठिन मिशन कर रहे हैं. ऐसे मिशन के लिए हमारे गार्ड प्रशिक्षित, सुसज्जित और तैयार है. वह राज्यों में कानून व्यवस्था को बनाए रखने में मदद कर रहे हैं.

ADVERTISEMENT