कोरोना संक्रमण के भय से चापाकल में ताला जड़ा शिकायत दर्ज होते ही खोल दिया ताला



युवा शक्ति संवाददाता
--------------------------
हावड़ा : हावड़ा थाना अंतर्गत बन बिहारी बोस रोड में शक के आधार पर चार लोगों को आइसोलेशन के लिए कोरोना सेंटर ले जाया गया था. यह घटना गुरुवार की है. इस घटना के बाद स्थानीय लोगों में हड़कंप मच गया था. सुरक्षा की दृष्टि से कुछ युवकों ने मिलकर वहां स्थित एक चापाकल में ताला जड़ दिया था जिसके बाद हजारों लोगों के सामने पेयजल की संकट उत्पन्न हो गई थी. सिर्फ यही नहीं वहां कालोनी के गेट पर भी ताला मार दिया गया था. इस घटना के बाद स्थानीय लोगों ने हावड़ा थाना में जाकर शिकायत दर्ज कराई. शिकायत दर्ज होते ही चापाकल में लगे ताले को खोल दिया गया. इस मुद्दे पर शिकायतकर्ताओं का कहना है कि जान-बूझकर चापाकल में ताला जड़ा गया था क्योंकि जिसे उठाकर ले जाया गया है वेलोग कोरोना पॉजिटिव है या नहीं यह किसी को नहीं मालूम.

घटना की शिकायत दर्ज होते ही पुलिस बन बिहारी बोस रोड पहुंची और दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर शांत कराया. ताला मारने वाले लोगों का कहना है कि लोगों की सुरक्षा के लिए ही चापाकल में ताला मारा गया था.
वहीं स्थानीय महिलाओं ने ही इस निर्णय को सही करार दिया कि अगर ताला नहीं मारा नहीं मारा जाता तो इससे कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने का खतरा रहता हालांकि लोगों के विरोध के बाद चापाकल का ताला खोल दिया गया.