SBI समेत 6 बैंकों के साथ फ्रॉड, 411 करोड़ का चूना लगा विदेश भागे प्रमोटर


बैंकिंग फ्रॉड को रोकने के लिए रिजर्व बैंक की ओर से तमाम प्रयास किए जा रहे हैं. इसी के तहत कई बैंकिंग नियमों में बदलाव भी किए गए हैं. इस बीच, एक और बैंक फ्रॉड का मामला सामने आया है. न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक राम देव इंटरनेशनल के तीन प्रमोटर ने SBI समेत 6 बैंकों को 411 करोड़ का चूना लगाया है.

अहम बात ये है कि फ्रॉड के बाद देश से फरार भी हो चुके हैं. इस पर सीबीआई ने हाल में मामला भी दर्ज किया है. यहां आपको बता दें कि राम देव इंटरनेशनल पश्चिम एशियाई देशों और यूरोपीय देशों को बासमती चावल का निर्यात करने वाली कंपनी है.

क्या कहा अधिकारियों ने ?

न्यूज एजेंसी को अधिकारियों ने बताया कि एसबीआई द्वारा इनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराए जाने से पहले ही ये देश से भाग चुके हैं. सीबीआई ने हाल में राम देव इंटरनेशनल और उसके निदेशकों नरेश कुमार, सुरेश कुमार और संगीता के खिलाफ एसबीआई की शिकायत पर मामला दर्ज किया था.

एसबीआई का ये है आरोप

एसबीआई ने आरोप लगाया है कि इन लोगों ने उसको 173 करोड़ रुपये का चूना लगाया है. एसबीआई ने शिकायत में कहा है कि कंपनी की करनाल जिले में तीन चावल मिलें, आठ छंटाई और ग्रेडिंग इकाइयां हैं. कंपनी ने व्यापार के लिए सऊदी अरब और दुबई में कार्यालय भी खोले हुए हैं. एसबीआई के अलावा कंपनी को लोन देने वाले बैंकों में केनरा बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, आईडीबीआई, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया और कॉरपोरेशन बैंक शामिल हैं.

अधिकारियों ने बताया कि कोरोना वायरस की वजह से लागू लॉकडाउन के चलते अभी तक इस मामले में छापेमारी की कार्रवाई नहीं की गई है. जांच एजेंसी इस मामले में आरोपियों को समन की प्रक्रिया शुरू करेगी. अधिकारियो ने कहा कि यदि आरोपी जांच में शामिल नहीं होते हैं, तो उनके खिलाफ उपयुक्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी. एसबीआई की शिकायत के अनुसार इस कंपनी का खाता 27 जनवरी, 2016 को नॉन परफॉर्मिंग एसेट (एनपीए) बन गया था.


ADVERTISEMENT