दो विश्व युद्ध देखे, 106 साल की महिला ने अब कोरोना को भी हराया


पूरी दुनिया में कोरोना का कहर जारी है. मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. अमेरिका, ब्रिटेन समेत तमाम देश इस महामारी से बुरी तरह प्रभावित हैं. इसी बीच ब्रिटेन की एक 106 साल की बुजुर्ग महिला चर्चा में हैं. उन्होंने कोरोना वायरस को हराया है. वो ठीक होकर अपने घर पहुंच गई हैं. 

टेलीग्राफ डॉट यूके की एक रिपोर्ट के मुताबिक ब्रिटेन में कोरोना को मात देने वाली ये सबसे अधिक उम्र की महिला हैं. तीन हफ्ते तक अस्पताल में जिंदगी और मौत की इस जंग में आखिरकार इस महिला की जीत हुई और उन्होंने कोरोना वायरस को मात दे दी. 

दिलचस्प बात यह है कि ब्रिटेन की इस महिला ने दो विश्व युद्ध देखे हैं. कॉनी टिचेन नाम की ये बुजुर्ग महिला बर्मिघम में रहती हैं. टिचेन का जन्म 1913 में हुआ था. पिछले महीने उनकी तबीयत खराब हुई, इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था. तब पता चला कि उन्हें खतरनाक कोरोना वायरस हो गया है. 

अंततः डॉक्टर्स की देख-रेख में उन्होंने कोरोना वायरस को हराया. इसी सप्ताह कॉनी टिचेन को अस्पताल से छुट्टी दी गई. इस दौरान अस्पताल के स्टाफ ने कॉनी टिचेन के लिए तालियां बजाईं. टिचेन ने कहा कि मैं बहुत लकी हूं कि मैंने कोरोना वायरस को मात दे दी. अब मैं अपने परिवार के लोगों के साथ समय बिताना चाहती हूं. 

उनकी देखभाल करने वाली सिस्टर केली स्मिथ का कहना है कि कॉनी को ठीक होते देखना शानदार रहा है. वह अद्भुत हैं और हम उन्हें वापस उसी तरह लाने की पूरी तरह कोशिश कर रहे हैं. हालांकि वह अब कोरोना वायरस के खतरे से पूरी तरह बाहर हैं. 

टिचेन के परिवार वालों का कहना है कि सौ साल की उम्र को पार करने बाद भी वह बेहद एक्टिव रहती हैं. उन्हें डांस और गोल्फ खेलना काफी ज्यादा पसंद है. पिछले साल दिसंबर में उनका कमर का ऑपरेशन हुआ था और सिर्फ 30 दिनों के अंदर वो फिर से चलने लगी थीं.