About Me

header ads

अभिनंदन को 2 दिन भी नहीं रोक सका था पाकिस्तान, अब कर रहा ओछी हरकत


जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है. वह लगातार भारत के खिलाफ दुष्प्रचार कर रहा है और घटिया हरकत पर उतर आया है. इस बार पाकिस्तान ने भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन को लेकर ओछी हरकत की है. भारत के जांबाज पायलट अभिनंदन को पाकिस्तान 48 घंटे भी नहीं रोक पाया था, लेकिन अब वो अभिनंदन के पुतले को कराची में पाकिस्तानी वायुसेना के वॉर म्यूजियम में लगाया है.

इस म्यूजियम में पाकिस्तान ने भारतीय वायुसेना के जाबांज अधिकारी अभिनंदन को कैदी के रूप में दिखाने की नापाक कोशिश की है. पाकिस्तान के पत्रकार और पॉलिटिकल कमेंटेटर अनवर लोधी ने पाकिस्तानी एयर फोर्स के म्यूजियम में लगे अभिनंदन के पुतले की तस्वीर ट्विटर पर शेयर की है.

पाकिस्तानी पत्रकार ने पुतले की तस्वीर की शेयर

इसके साथ ही अनवर लोधी ने ट्वीट किया, 'पाकिस्तानी वायुसेना ने अभिनंदन के पुतले को म्यूजियम में लगाया गया है. अगर उनके हाथ में चाय का कप पकड़ा दिया जाता, तो यह और भी ज्यादा दिलचस्प होता.' इसके बाद से सोशल मीडिया पर पाकिस्तान की जमकर खिंचाई हो रही है. सोशल मीडिया पर लोग कह रहे हैं कि भारत ने 93 हजार पाकिस्तानी सैनिकों को बंदी बनाया था, लेकिन भारत ने ऐसा कभी नहीं किया.

ग्लास शोकेस में अभिनंदन का पुतला?

पाकिस्तानी पत्रकार अनवर लोधी ने भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन के पुतले की जिस तस्वीर को ट्विटर पर साझा किया है, उसमें देखा जा सकता है कि अभिनंदन के पुतले को एक ग्लास शोकेस में रखा गया है. अभिनंदन के दाहिनी ओर एक कप रखा है और उनके पीछे बाईं ओर एक पाकिस्तानी सैनिक खड़ा है. तस्वीर में अभिनंदन के पुतले के पीछे उनके कपड़े टंगे दिखाए गए हैं.

इससे पहले फरवरी में पाकिस्तानी सेना ने अभिनंदन का वीडियो जारी किया था. उस समय अभिनंदन पाकिस्तानी सेना की हिरासत में थे. इस वीडियो में अभिनंदन को चाय पीते और पाकिस्तानी सेना के सवालों के जवाब देते दिखाया गया था.

हवाई भिड़ंत के दौरान अभिनंदन का विमान हो गया था दुर्घनाग्रस्त

आपको बता दें कि फरवरी में पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में घुसकर एयर स्ट्राइक की थी और आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर बम बरसाया था. इसके बाद पाकिस्तान ने हवाई  हमला किया था, जिसका भारतीय वायुसेना ने करारा जवाब दिया था.

इस हवाई भिड़ंत के दौरान विंग कमांडर अभिनंदन का विमान मिग-21 दुर्घटनाग्रस्त हो गया था और वो पाकिस्तान के कब्जे वाले इलाके में चले गए थे. इसके बाद पाकिस्तान सेना ने उनको हिरासत में ले लिया था. हालांकि भारत के दबाव में पाकिस्तान को झुकना पड़ा था और अभिनंदन को छोड़ना पड़ा था. अभिनंदन की वापसी वाघा बॉर्डर के रास्ते हुई थी.