About Me

header ads

जापान में आया 60 वर्षों का सबसे विनाशकारी तूफान, PM ने जताई संवेदना


जापान में भीषण तूफान हगिबीस ने शनिवार को दस्तक दी. जापान में इस तूफान ने भयंकर तबाही मचाई है और कई लोगों को अपने चपेट में ले चुका है. इस तूफान के चलते 25 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं. साथ ही 100 से ज्यादा लोग घायल हो चुके हैं. वहीं इस तूफान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संवेदना व्यक्त की है. पीएम मोदी ने कहा है कि वो इस प्राकृतिक आपदा से हुए नुकसान और तबाही से जल्द ठीक होने की कामना करते हैं. पीएम ने कहा कि भारत इस मुश्किल घड़ी में जापान के साथ एकजुटता से खड़ा है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वे सभी भारतीयों की तरफ से जापान में तूफान हगिबीस से हुए नुकसान के लिए संवेदना प्रकट करते हैं . पीएम ने कहा कि वे कामना करते हैं कि जापान इस संकट से जल्द बाहर आए.

पीएम ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि जापान का नेतृत्व पीएम शिंजो आबे की अगुवाई में इस संकट से बाहर निकलने सक्षम होगा. जापान को मदद की पेशकश करते हुए उन्होंने लिखा कि इंडियन नेवी की एक टीम इस वक्त जापान दौरे पर गई है, उन्हें जापानियों की मदद करने में खुशी होगी. 

60 सालों का सबसे विनाशकारी तूफान

बता दें कि जापान पिछले 60 सालों में यह सबसे विनाशकारी तूफान से जूझ रहा है. बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, तूफान हैजिबिस यहां टोक्यो के दक्षिण-पश्चिम में इजु प्रायद्वीप पर शनिवार शाम सात बजे से कुछ देर पहले आया. 225 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार वाली तेज हवाओं के साथ तूफान जापान के मुख्य द्वीप के पूर्वी तट की ओर बढ़ रहा है.

एनएचके की रिपोर्ट के अनुसार, 2,70,000 से ज्यादा घरों की बिजली ठप हो गई. स्थानीय रिपोर्ट्स के अनुसार, तूफान के कारण 14 लोगों की मौत हो गई है, जिनमें से एक व्यक्ति की मौत टोक्यो के पूर्व में शीबा प्रांत में तेज हवाओं में उसका वाहन पलटने से हुई, वहीं दूसरा व्यक्ति अपनी कार समेत बह गया. एनएचके ने कहा कि स्थानीय समय के अनुसार, रविवार तड़के तक मिली जानकारी के अनुसार 90 लोग घायल हो चुके हैं.