About Me

header ads

बैंक PO का इंटरव्यू देने पहुंचा था युवक, मार्क्सशीट देख अधिकारियों के उड़े होश


गांधी मैदान थाना पुलिस ने फर्जी डिग्री मामले में मधेपुरा के एसबीआइ घेलार शाखा में सहायक पद पर तैनात सावन कुमार को शुक्रवार को जेल भेज दिया. वह गुरुवार को स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के प्रधान कार्यालय में चल रहे परिवीक्षाधीन अधिकारी (पीओ) के साक्षात्कार में पहुंचा था. लेकिन, स्नातक के प्रमाणपत्र में कई विषय में पूर्णांक से अधिक प्राप्तांक ने उसे सलाखों के पीछे भेज दिया. 

तीन विषयों में पूर्णांक से अधिक था प्राप्तांक 

स्थानीय प्रधान कार्यालय में 16 से 27 सितंबर तक पीओ की बहाली के लिए साक्षात्कार चल रहा था. गुरुवार को साक्षात्कार में पूर्णिया के मरंगा स्थित वर्मा कॉलोनी निवासी सावन कुमार भी शामिल हुआ था. उसके इंटर तक के सर्टिफिकेट सही मिले। लेकिन, स्नातक के सर्टिफिकेट देख साक्षात्कार में जुटे अधिकारी चौंक गए.

सर्टिफिकेट तमिलनाडु की एक यूनिवर्सिटी का था। लेकिन, उसमें तीन विषय में पूर्णांक से प्राप्तांक अधिक थे. सर्टिफिकेट उसने 20 मई 2015 को हासिल किया था. इसमें आठ विषय थे। इसमें तीन विषयों में पूर्णांक 50 नंबर के थे. पर, इनमें उसके प्राप्तांक क्रमश: 68, 71 और 73 नंबर थे. सर्टिफिकेट पर पत्रकों की संख्या और स्नातक प्रमाणपत्र पर पत्र संख्या के साथ यूनिवर्सिटी की मुहर, हस्ताक्षर भी थे. 

मोटी रकम देकर हासिल किया सर्टिफिकेट 

उसकी शैक्षणिक एवं अन्य दस्तावेजों की जांच के अधिकारियों ने सावन कुमार से पूछताछ की. उसने बताया कि वह स्नातक का सर्टिफिकेट दिलाने वाले गिरोह से इसके लिए मिला था. दाखिला से लेकर परीक्षा शुल्क भी दिया. डाक से उसका सर्टिफिकेट आया था, लेकिन वह प्राप्तांक नहीं देख सका. पूछताछ में उसने स्वीकार किया कि बैंक में फर्जी शैक्षणिक दस्तावेज प्रस्तुत किया था.