झारखंड में लॉकडाउन खत्‍म... सीएम हेमंत ने अनलॉक को लेकर पर मांगे सुझाव

झारखंड में लागू स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह 3 जून से खत्म होने वाला है। इसके साथ झारखंड में अनलॉक वन की तैयारी शुरू हो गई है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इंटरनेट मीडिया ट्विटर व फेसबुक के जरिए लोगों से अनलॉक व वन को लेकर सुझाव मांगे हैं। सीएम ने ट्वीट कर कहा है कि साथियों, कैसा होना चाहिए अनलॉक 1 ? स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह में आपके दिए सहयोग एवं कोरोना वॉरीअर्ज़ के अथक मेहनत से हमने कोरोना के दूसरे लहर पर काबू पा लिया है।

जीवन और जीविका के इस संघर्ष में अब हमारा ध्यान जीविका पर है। इसलिए आप अपने बहुमूल्य विचार कमेंट कर साझा करें कि कैसा होना चाहिए अनलॉक 1 की प्रक्रिया? ट्वीट के दो घंटे में ही पांच हजार से अधिक लोगों ने इसे लाइक किया है और 800 से अधिक लोगों ने रिट्वीट किया है। लोग कमेंट कर अपने सुझाव भी दे रहे हैं। एक यूजर ने कहा है कि सभी दुकानें और बाजार हाट खोल देना चाहिए और उसकी टाइमिंग 6 सुबह से शाम 6 तक कर देना चाहिए और मास्क दो गज दूरी नियम का पालन ना करने वाले को दंडित किया जाए, चाहे दुकानदार हो या ग्राहक। पुलिस की सेवा को हर चौक पर मुस्तैदी से तैनात किया जाए। हो सके तो ड्रोन कैमरा का यूज करें।

पिछले साल 2020 के बाद इस वर्ष फिर करीब डेढ़ महीने तक बंदिशों के साथ जीवन गुजारने के बाद आम जन जीवन पहले जैसा होने वाला है। हालांकि स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा सप्‍ताह को पूरी तरह खत्‍म नहीं किया जाएगा।

सीएम हेमंत सोरेन ने इंटरनेट मीडिया के जरिए बताया कि पिछले 5 दिनों से नये संक्रमित - 500 - 800 के बीच रही है। इसके अलावा संक्रमण दर - 1.5 प्रतिशत है। वहीं, राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 9906 है जो सभी राज्यों की तुलना सबसे कम है। जहां आपके सहयोग से हम जीवन बचाने में सफल हुए, अब हमारा पूरा ध्यान जीविका पर है। इसलिए आप अपने बहुमूल्य विचार कमेंट कर साझा करें की कैसा और कैसे होनी चाहिए अनलॉक की प्रक्रिया ?