पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह बोले- लाल किले की घटना से सिर शर्म से झुक गया, किसान आंदोलन होगा कमजोर

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि दिल्ली में हुई हिंसा, खासतौर से लाल किले पर हुई घटना निंदनीय है। कहा कि इस घटना से देश का अपमान हु्आ है। इस घटना ने देश को शर्मशार किया है। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि इस घटना से किसानों का आंदोलन कमजोर होगा। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि वह किसानों के साथ खड़े हैं। कृषि कानून गलत हैं और संघीय सिस्टम के खिलाफ हैं। 

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि लाल किला स्वतंत्र भारत का प्रतीक है। लाल किले पर तिरंगा लहराए इसके लिए हजारों भारतीयों ने स्वतंत्रता आंदोलन मेंं अपने प्राणों की कुर्बानी दी थी। महात्मा गांधी ने अहिंसा के माध्यम से स्वतंत्रता की पूरी लड़ाई लड़ी थी। कैप्टन ने कहा, ''राष्ट्रीय राजधानी में कल जो हुआ, उससे मेरा सिर शर्म से झुक गया।"

पंजाब के सीएम ने कहा कि जिसने भी इस घटना को अंजाम दिया है दिल्ली पुलिस को इसकी जांच करनी चाहिए। किसी राजनीतिक दल की भी अगर इसमें भूमिका है तो इसकी जांच होनी चाहिए, लेकिन किसान नेताओं को अनावश्यक रूप से टारगेट या उत्पीड़ित न करें।

पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कल भी घटना की निंदा करते हुए कहा था कि दिल्ली के दृश्य शॉकिंग हैं और इस तरह के तत्वों को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे किसानों द्वारा बनाई गई छवि भी इससे खराब हुई है। उन्होंने कहा कि किसान नेताओं को अपनी ट्रैक्टर परेड खत्म करके वापस दिल्ली के बार्डर पर आ जाना चाहिए।

ADVERTISEMENT