सैनिकों के शौर्य की तारीफ कर बोले पीएम मोदी- ये 3 आदतें अपनाइए, नई ऊर्जा मिलेगी

जैसलमेर में लोंगेवाला पोस्ट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश सेवा के लिए सैनिकों का आभार तो व्यक्त किया ही, साथ ही उन्हें तीन सलाह भी दी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सैनिकों से अपील की कि वे कुछ न कुछ नया करने करने की कोशिश करें, दूसरे योग को अपने जीवन का हिस्सा जरूर बनाएं और तीसरा अपनी मातृभाषा, हिंदी और अंग्रेजी के अलावा, कम से कम एक भाषा जरूर सीखें. 

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिवाली मनाने शनिवार सुबह सुबह ही राजस्थान के जैसलमेर के लोंगेवाला बॉर्डर पहुंच गए थे. प्रधानमंत्री मोदी ने जवानों और उनके परिवार के प्रति आभार जताते हुए कहा कि आप यहां हैं तभी देश है, तभी त्योहार है. 

पीएम ने कहा कि मैं आज उन वीर माताओं-बहनों और बच्चों को भी दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं, उनके त्याग को नमन करता हूं, जिनके अपने सरहद पर हैं.

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आप भले बर्फीली पहाड़ियों पर रहें या फिर रेगिस्तान में, मेरी दीवाली तो आपके बीच आकर ही पूरी होती है. आपके चेहरों की रौनक देखता हूं, आपके चेहरे की खुशियां देखता हूं, तो मुझे भी दोगुनी खुशी होती है. मैं आज आपके बीच प्रत्येक भारतवासी की शुभकामनाएं लेकर आया हूं, आपके लिए प्यार लेकर आया हूं, आशीष लेकर आया हूं. 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज के दिन मैं आपसे तीन आग्रह और करना चाहता हूं. पहला, कुछ न कुछ नया इनोवेटिव करने की आदत को अपनी रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्सा बनाइए. आजकल कई जगहों पर हमारे जवान महत्वपूर्ण इनोवेशंस कर रहे हैं.

पीएम ने जवानों को दूसरी सलाह देते हुए कहा कि योग को अपने जीवन का हिस्सा बनाए रखिए. तीसरे अपनी मातृभाषा, हिंदी और अंग्रेजी के अलावा, कम से कम एक भाषा जरूर सीखिए. पीएम ने कहा कि ये आदतें आपमें एक नई ऊर्जा का संचार करेंगी.


ADVERTISEMENT