US Election 2020: डिबेट में कोरोना पर घिरे ट्रंप तो भारत पर लगाया आंकड़े छुपाने का आरोप


अमेरिकी चुनाव की शुरुआत हो गई है और अब प्रचार अपने अंतिम चरण में है. बुधवार को अमेरिकी चुनाव की पहली प्रेसिडेंशियल डिबेट हुई, जहां डोनाल्ड ट्रंप और जो बिडेन में तीखी बहस हुई. इस दौरान कोरोना संकट को लेकर जो बिडेन ने डोनाल्ड ट्रंप पर आरोप लगाया और कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति अपनी ड्यूटी में फेल हुए हैं.

भारत पर लगाया आंकड़े छुपाने का आरोप

डोनाल्ड ट्रंप ने अपने संबोधन में आरोप लगाया कि भारत, चीन और रूस जैसे देश अपने यहां का सही आंकड़ा नहीं दे रहे हैं. आप नहीं कह सकते हैं कि वहां पर कितने लोग मरे और कितने कोरोना की चपेट में आए, उनके आंकड़े सही नहीं हैं.

आपको बता दें कि इससे पहले भी डोनाल्ड ट्रंप कई बार अमेरिका की तुलना भारत से टेस्टिंग के मसले पर करते आए हैं. ट्रंप इससे पहले भारत में कोरोना से हो रही मौत, टेस्टिंग की संख्या को लेकर सवाल खड़े कर चुके हैं.

 

इस दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जवाब दिया कि कोरोना वायरस चीन की वजह से आया, अगर चीन सबको सही तरीके से सबकुछ बता देता तो कोरोना फैलता ही नहीं.

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अगर जो बिडेन सरकार में होते तो सिर्फ दो लाख नहीं बल्कि दस लाख से अधिक लोग मर जाते. हमारी कोशिश है कि जल्द से जल्द वैक्सीन बनाई जाए. गौरतलब है कि अमेरिका में कोरोना संकट इस वक्त चुनाव का सबसे बड़ा मसला है, विरोधियों का आरोप है कि डोनाल्ड ट्रंप इस महामारी को सही से संभाल नहीं पाए.

कई मुद्दों पर आमने-सामने ट्रंप-बिडेन

जो बिडेन की ओर से डिबेट में डोनाल्ड ट्रंप पर अर्थव्यवस्था को बंद करने का आरोप लगाया गया, साथ ही वैक्सीन को लेकर झूठी दलीलें देने का आरोप लगाया गया.

आपको बता दें कि अमेरिकी चुनाव की ये पहली प्रेसिडेंशियल डिबेट है. पहली डिबेट में सुप्रीम कोर्ट, डोनाल्ड ट्रंप के रिकॉर्ड और सुप्रीम कोर्ट के मसले पर चर्चा हुई. इस दौरान दोनों प्रत्याशियों ने एक दूसरे पर जमकर आरोप लगाए.

दोनों उम्मीदवार कई मसलों पर एक दूसरे भिड़े भी, डोनाल्ड ट्रंप ने जो बिडेन पर आरोप लगाया कि उनके पास कोई प्लान नहीं है और आपके आने से कुछ होगा नहीं. और मैं चार साल के लिए राष्ट्रपति बना हूं और आगे भी मैं ही रहूंगा. दूसरी ओर जो बिडेन ने डोनाल्ड ट्रंप के गलत बयानों, डॉक्टरों पर दबाव बनाने का आरोप लगाया. 


ADVERTISEMENT