About Me

header ads

Parliament session: मुलायम सिंह का बड़ा सवाल, कहा- संसद सत्र बढ़ाने को बताया साजिश


समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता मुलायम सिंह यादव ने संसद के मौजूदा सत्र की अवधि बढ़ाने को लेकर गुरुवार को लोकसभा में सवाल खड़ा किया। उन्होंने आरोप लगाया कि इसमें सरकार की साजिश है। हालांकि, सरकार ने आरोप को खारिज करते हुए साफ किया कि तमाम विधायी कार्य होने के कारण सत्र को बढ़ाया गया.

लोकसभा में दिवालिया कानून के संशोधन पर चर्चा के दौरान यादव ने सत्र की अवधि बढ़ाए जाने को लेकर सवाल उठाया। उन्होंने कहा, 'लोकसभा देश की विधानसभाओं के लिए आदर्श होती है, लेकिन सदन में बहुत सारे सदस्य मौजूद नहीं हैं.. लोग शादी तक में नहीं जा पा रहे हैं.. सदन के संचालन के पीछे सरकार की साजिश है. जनता का पैसा बर्बाद किया जा रहा है..कोई वाजिब कारण हो तो मुझे बताएं।' कांग्रेस नेताओं और बगल में बैठे तृणमूल कांग्रेस के सौगत राय ने यादव की बातों का समर्थन किया.

संसदीय कार्य राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि सदन में पर्याप्त संख्या में सदस्य मौजूद हैं। उन्होंने कहा, 'मुलायम सिंह यादव वरिष्ठ सदस्य हैं, लेकिन हम उनसे सहमत नहीं हैं. कई महत्वपूर्ण विधायी कार्य हैं, जिनसे आम जनता को फायदा होगा.. विपक्ष भी मांग करता रहा है कि संसद में कामकाज साल में कम से कम 100 दिन होने चाहिए.

17वीं लोकसभा का पहला सत्र नए सदस्यों के शपथग्रहण के साथ 17 जून को शुरू हुआ था। इसे 26 जुलाई को समाप्त होना था, लेकिन इसकी अवधि सात अगस्त तक बढ़ा दी गई है.