About Me

header ads

जम्मू कश्मीर: शोपियां मुठभेड़ में एक आतंकी मारा गया, सेना का एक जवान शहीद, एक अन्य घायल; ऑपरेशन जारी


Shopian Encounter जम्मू-कश्मीर(Jammu Kashmir) के शोपियां(Shopian) में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच चल रही मुठभेड़ किसी भी समय समाप्त हो सकती है. करीब 14 घंटों से जारी इस मुठभेड़ में एक आतंकी मार गिराया गया है. शोपियां के पंडूशान इलाके में जारी मुठभेड़ में सेना का एक जवान शहीद व एक अन्य घायल है.शहीद जवान की पहचान 34 आरआरके रामवीर के रूप में हुई है एक अन्य जवान जख्मी भी हुआ है। फिलहाल आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों का ऑपरेशन जारी है.

एक तरफ जहां शोपियां में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ जारी है तो इस बीच दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले में 55 राष्ट्रीय राइफल (आरआर) के एक वाहन को निशाना बनाया गया है। आतंकियों ने सेना की गाड़ी पर एक शक्तिशाली आईईडी(IED) हमला किया. घटना में कोई घायल या हताहत नहीं हुआ, हालांकि वाहन को मामूली क्षति हुई है.

बता दें, पिछले कुछ दिनों से जम्मू कश्मीर में पिछले कुछ दिनों से आतंकी सुरक्षाबलों के निशाने पर हैं। गुरुवार को हुई एक मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया. वहीं बांदीपोरा जिले के गुरेज सेक्टर में नियंत्रण रेखा(LoC) के पास घुसपैठ कर रहे तीन आतंकियों को सुरक्षाबलों ने ढेर कर दिया था.

बिजबेहाड़ा में मुठभेड़, जैश का आतंकी कमांडर ढेर
इससे पहले 30 जुलाई को दक्षिण कश्मीर के जिला अनंतनाग के बिजबेहाड़ा क्षेत्र में आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ में दो आतंकवादियों को मार गिराया गया था. मरने वाले आतंकवादियों में जैश-ए-मोहम्मद का एक कमांडर भी शामिल था।इलाके में आतंकियों की मौजूदगी के बाद सर्च ऑपरेशन चलाया गया और इलाके की घेराबंदी की गई थी.

पुलिस के अनुसार मुठभेड़ में मारे गए दो आतंकवादियों में एक जैश-ए-मोहम्मद का कमांडर फैयाज पंजू भी शामिल है. दरअसल फैयाज पंजू वहीं आतंकी है, जिसने गत जून में अनंतनाग के केपी रोड पर सुरक्षा बलों पर हुए हमले की साजिश को रचा था। इस हमले में सीआरपीएफ के 5 जवान और अनंतनाग के थाना प्रभारी अरशद खान शहीद हुए थे.

सुरक्षाबलों को दोपहर बाद विश्वसनीय सूत्रों से यह जानकारी मिली थी कि बिजबेहाड़ा इलाके के काथोवोपजान गांव में दो से तीन आतंकी छिपे हुए हैं. सूचना मिलते ही सेना, सीआरपीएफ और पुलिस विभाग के एसओजी के विशेष दल ने क्षेत्र की घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू कर दिया। सुरक्षाबलों के बीच अपने आप को घिरा देख आतंकवादियों ने जवानों पर गोलीबारी शुरू कर दी.