About Me

header ads

फारूक अब्दुल्ला बोले- 'मेरी जान को खतरा, किया गया हूं नजरबंद', तो अमित शाह ने कहा, अगर...


पिछले कुछ दिनों से जम्मू-कश्मीर के हालात ठीक नहीं लग रहे थे. हर जगह बस ये ही आवाज कि आखिरकार होने क्या वाला है। अमरनाथ यात्रा को भी रोक दिया गया. हजारों की तादात में जवानों को घाटी में भेजा गया। फिर 5 अगस्त का दिन जब एक झटके में जम्मू-कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा छीन लिया गया। Article 370 को हटा दिया गया और पहले से ही सुरक्षा व्यवस्था को इस कदर दुरुस्त कर लिया गया कि कोई भी हानि ना हो सके.

इसके मद्देनजर कुछ बड़े नेताओं को पहले नजरबंद किया गया और फिर उनकी गिरफ्तारी भी की गई. हालांकि उन नेताओं में नेशनल कांफ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला का नाम नहीं था, लेकिन अब उनका बयान आया कि केंद्र सरकार द्वारा उन्हें House Arrest किया गया.

फारूक अब्दुल्ला ने मंगलवार को कहा कि उन्हें नजरबंद कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में 'तानाशाही' को लागू किया गया, ना की 'लोकतंत्र' को. नाराजगी जाहिर करते हुए जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने बाहर आने और मीडिया से बात करने के लिए 'दरवाजा तोड़ दिया'. उन्होंने आगे कहा कि मैं अपने घर के अंदर कैसे रह सकता हूं जब मेरा राज्य जला रहा है, जब मेरे लोगों को जेलों में बंद किए जा रहे है? यह वह भारत नहीं है जिस पर मुझे विश्वास है.

अमित शाह का जवाब
टीवी चैनलों पर फारूक अब्दुल्ला द्वारा खुद के नजरबंद बताए जाने के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ सांसद शशि थरूर ने भी इस मुद्दे को उठाया। वहीं, गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, 'मैं तीन बार साफ कर चुका हूं, फिर से एक बार क्लियर कर देता हूं। फारूक अब्दुल्ला ना तो हिरासत में हैं ना नजरबंद हैं। अपने घर पर हैं। तबीयत भी अच्छी है। मौज मस्ती में हैं.  अगर उनको बाहर नहीं आना है तो हम जबरदस्ती नहीं कर सकते.'

हालांकि, बार-बार फारूक अब्दुल्ला को लेकर आ रही जानकारी पर लोकसभा में अमित शाह ने कहा, 'मैं इसे 4 वीं बार कह रहा हूं, और मुझे 10 वीं बार कहने में भी कई दिक्कत नहीं है. फारूक अब्दुल्ला को न तो हिरासत में लिया गया है और न ही गिरफ्तार किया गया है. यदि वह ठीक नहीं है, तो उन्हें अस्पताल ले जाया जाएगा। सदन को चिंता नहीं करनी चाहिए।' वहीं थोड़े अलग मिजाज में शाह ने कहा कि अगर वे ठीक नहीं होंगे, तो उन्हें बाहर नहीं लाया जाएगा.

फारूक अब्दुल्ला का पलटवार
नेशनल कांफ्रेंस के नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला ने कहा, 'गृह मंत्रालय संसद में झूठ बोल रहा है कि मुझे गिरफ्तार नहीं किया गया, मैं अपनी मर्जी से अपने घर के अंदर रह रहा हूं'.