About Me

header ads

रिलायंस की AGM में मुकेश अंबानी बोले- 10 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बन सकता है भारत


रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) के चेयरमैन एवं मैनेजिंग डायरेक्टर (CMD) मुकेश अंबानी ने कहा कि साल 2030 तक भारतीय अर्थव्यवस्था का आकार 10 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंच सकता है. RIL की सालाना महासभा ( annual general meeting AGM) को संबोधित करते हुए मुकेश अंबानी ने सोमवार को यह बात कही.

गौरतलब है कि इसके पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अगले 5 साल में भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाने का लक्ष्य रखा था. मुकेश अंबानी ने कहा कि देश के कई सेक्टर में जो सुस्ती देखी जा रही है, वह अस्थायी है और अर्थव्यवस्था के बुनियादी कारकों में मजबूती है. उन्होंने कहा कि अब कोई भी भारत की अर्थव्यवस्था के उभार को रोक नहीं सकता और साल 2030 तक यह 10 ट्रिलियन डॉलर का आंकड़ा छू लेगी.

अंबानी ने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल 2024 तक देश को 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाने का लक्ष्य रखा है. मैं इस महत्वाकांक्षी लक्ष्य का पूरी तरह से समर्थन करता हूं. वास्तव में मैं यह साफतौर से होता देख रहा हूं कि साल 2030 तक भारत 10 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बन जाएगा और हर भारतीय को इसका फायदा होगा. यह हासिल करना संभव है. यह जरूरी भी है. यह अपरिहार्य है. मैं यह इसलिए कह रहा हूं कि डिजिटल के भरोसे न केवल जीडीपी कई गुना बढ़ेगी, बल्कि इससे सबका विकास होगा. अर्थव्यवस्था के कई सेक्टर में सुस्ती है, लेकिन यह अस्थायी है. भारतीय अर्थव्यवस्था की बुनियाद काफी मजबूत है.'  

मुकेश अंबानी ने कहा कि, 'आगे संरचनात्मक सुधारों की वजह से अवसर बढ़ेंगे. भारत में राजनीतिक अस्थ‍िरता देखी गई है. सरकार कारोबार को प्रोत्साहन और नियमन के लिए नई संस्थाओं की बुनियाद बिछा रही है. सभी नागरिकों का जीवन बेहतर करने और आय की असमानता को दूर करने के लिए दीर्घकालिक उपाय किए जा रहे हैं. भारत आगे बढ़ रहा है. अब धरती की कोई भी ताकत भारत को आगे बढ़ने से रोक नहीं सकती.'  

रिलायंस के प्रदर्शन के बारे में मुकेश अंबानी ने कहा, 'रिलायंस के स्वर्ण‍िम दशक में साल 2018-19 एक और बेहतरीन वर्ष रहा है. रिलायंस भारत की सबसे बड़ी और सबसे मुनाफा कमाने वाली कंपनी बन गई है, सार्वजनिक और निजी दोनों क्षेत्रों में.'  

गौरतलब है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) द्वारा सोमवार को 42वीं एनुअल जनरल मीटिंग का आयोजन किया गया था. इसमें कंपनी के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी ने बताया कि जियो किसी भी एक देश में ऑपरेट होने वाली दुनिया की दूसरी बड़ी टेलीकॉम कंपनी बन गई है.

इस मीटिंग में शेयरहोल्‍डर्स को संबोधित करते हुए मुकेश अंबानी ने कंपनी के कर्ज को खत्‍म करने के प्‍लान के बारे में बताया. उन्‍होंने बताया कि कंपनी 18 महीनों में कर्ज मुक्त बनने का लक्ष्य लेकर चल रही है. मुकेश अंबानी के मुताबिक रिलायंस इंडस्‍ट्रीज को अगले 5 साल में 15 फीसदी सालाना ग्रोथ की उम्मीद है.