About Me

header ads

Murder of BJP Worker: बंगाल के हुगली में भाजपा कार्यकर्ता की हत्या, इलाके में तनाव


बंगाल में हुगली जिले के गोघाट में तृणमूल कार्यकर्ता की हत्या के छह दिन बाद रविवार को तालाब से एक भाजपा कार्यकर्ता की लाश मिलने इलाके में तनाव व्याप्त हो गया है। घटना गोघाट थानांतर्गत नकूड़ा गांव की है। मृतक का नाम काशीनाथ घोष (40) है। वहीं. भाजपा नेताओं का आरोप है कि तृणमूल के गुंडों ने ही काशीनाथ को मार कर तालाब में फेंक दिया है।

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, रविवार सुबह गश्त के दौरान उन्हें गांव के तालाब के किनारे से भाजपा कार्यकर्ता काशीनाथ की लाश मिली। इसके बाद उन्होंने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए आरामबाग महकमा अस्पताल भेज दिया। इस घटना की सूचना मिलने के बाद पूरे गांव में तनाव व्याप्त हो गया। वहीं गांव में तनाव होने के कारण वहां बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है।

इधर, जिला तृणमूल कांग्रेस के अध्यक्ष दिलीप यादव का कहना है कि भाजपा के लोग तृणमूल पर झूठा आरोप लगा रहे है। हो सकता है कि तालाब में डूबने से उसकी मौत हुई हो या भाजपा के आपसी द्वंद के कारण उसकी हत्या करके उनके ही पार्टी के लोगों ने काशीनाथ का शव को तालाब में फेंक दिया हो। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही इसका खुलासा हो पाएगा। इस घटना से तृणमूल कांग्रेस का कोई लेना देना नहीं है।

उल्लेखनीय है कि 23 जुलाई (मंगलवार) की रात इस गांव के रहने वाले तृणमूल कार्यकर्ता लाल चंद्र बाग के घर जाने के क्रम में 10-12 लोगों ने बांस व लाठी से पीट पीटकर उसकी हत्या कर दी थी। इस घटना के बाद तृणमूल व मृतक के परिजनों ने सात भाजपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ थाने में मामला दर्ज कराया था। लाल चंद्र बाग की हत्या मामले में काशीनाथ घोष का भी नाम दर्ज था। वारदात के बाद से काशीनाथ अपने एक सहयोगी के साथ फरार था। इसके बाद रविवार सुबह तालाब से उसकी लाश मिली। इसके एक बार फिर से गोघाट का माहौल गरमा गया है। स्थानीय लोगों ने बताया कि रविवार सुबह खेतों पर काम करने जा रहे लोगों ने सबसे पहले तालाब के किनारे काशीनाथ की लाश देखी। इसके बाद उन्होंने इस घटना की सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच शुरू कर दी है।

बीरभूम में तृणमूल कांग्रेस व भाजपा कार्यकर्ताओं में संघर्ष को लेकर तनाव

बीरभूम जिले के पारूई में तृणमूल कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं में संघर्ष को लेकर तनाव व्याप्त है। शनिवार रात में भी इलाके में संघर्ष की घटना घटी है। इधर, इस घटना को लेकर थाने के प्रभारी को सस्पेंड कर दिया गया है। इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस की तैनाती की गई है।