About Me

header ads

आर्थिक मोर्चे पर फिर पिछड़ी मोदी सरकार, औद्योगिक उत्पादन सुस्त, बढ़ी खुदरा महंगाई


देश में मई महीने के दौरान औद्योगिक उत्पादन की रफ्तार सुस्ती रही है. सरकार द्वारा आज (शुक्रवार) जारी आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार देश में औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर अप्रैल में 4.32 फीसदी दर्ज की गई थी जो मई में घटकर 3.1 फीसदी रह गई है.

वहीं देश में औद्यागिक उत्पादन की रफ्तार इस साल मई में पिछले साल के मुकाबले भी सुस्त रही. पिछले वित्त वर्ष के दौरान मई महीने में औद्योगिक उत्पादन में 3.8 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई थी जबकि 2019 के अप्रैल और मई महीने के दौरान औद्योगिक उत्पादन में वृद्धि दर 3.7 फीसदी रही.

खुदरा महंगाई दर बढ़कर हुई 3.18 फीसदी

इसके अलावा खाद्य पदार्थो के दाम में ज्यादा इजाफा होने से जून में खुदरा महंगाई दर बढ़कर 3.18 फीसदी हो गई, जबकि मई में खुदरा महंगाई 3.05 फीसदी दर्ज की गई थी. यह आधिकारिक आंकड़े शुक्रवार को जारी किए गए है. हालांकि सालाना आधार पर इस साल जून में उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) में पिछले साल के मुकाबले गिरावट दर्ज की गई. पिछले साल जून में देश में महंगाई दर 4.92 फीसदी दर्ज की गई थी.

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय की ओर से तैयार आंकड़ों के अनुसार, उपभोक्ता खाद्य महंगाई सूचकांक (सीईपीआई) जून महीने के दौरान बढ़कर 2.17 फीसदी हो गया जो मई में 1.83 फीसदी दर्ज किया गया था.