About Me

header ads

त्रिपुरा में बीजेपी कार्यकर्ताओं के वाहनों में लगाई आग, 3 लोग घायल


त्रिपुरा में राजनीतिक हिंसा का एक नया मामला सामने आया है. त्रिपुरा के धर्मनगर के पश्चिम चंद्रपुर में पंचायत चुनाव के लिए प्रचार कर रहे भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं के वाहनों में आग लग गई है. बीजेपी ने इसका सीधा आरोप सीपीएम पर लगाया है. बीजेपी युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं की एक कार और 20 मोटरसाइकिल में आग लगी है.

इस घटना में 3 बीजेपी समर्थक घायल हो गए हैं. घायलों को पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. हालांकि अभी तक आग लगने के पीछे के कारणों का पता नहीं चल पाया है.

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) और भारतीय जनता पार्टी के बीच हिंसा की ये कोई पहली घटना नहीं है. इससे पहले भी इस प्रकार की घटनाएं हो चुकी हैं. इन चुनावों में सीपीएम का सूपड़ा साफ हो गया था. हार के बाद सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी से जब हार की जिम्मेदारी के बारे में पूछा गया सीताराम येचुरी ने कहा था कि बीजेपी पिछले 5 साल में गरीबी, भूखमरी से अलग बीजेपी एक अलग मुद्दा खड़ा करने में कामयाब रही है. मोदी के व्यक्तित्व को स्थापित करने के लिए मीडिया भी काम कर रहा है, इसमें बड़े पैमाने पर पैसे का इस्तेमाल किया जा रहा है.
आगे बोलते हुए सीताराम येचुरी ने कहा था कि पीएम मोदी ने कहा था कि नई सरकार सबके साथ चलेगी और सभी वर्गों में विश्वास कायम करेगी, लेकिन इस प्रकार की घटनाएं उनके बयान से बिल्कुल विपरीत हैं. इस चुनावों में कई विपक्षी पार्टियों को नुकसान हुआ. इसमें से वामपंथी पार्टियां भी एक हैं. बीजेपी ने रोजी-रोटी, गरीबी से अलग एक अन्य मुद्दा खड़ा कर दिया जो सांप्रदायिक राष्ट्रवाद पर आधारित था.