About Me

header ads

हमारे नंबर 1 या दो का आदेश हुआ तो 24 घंटे में गिर जाएगी कमलनाथ सरकार : भाजपा नेता


कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस की सरकार गिरने के बाद आप बात मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार तक पहुंच गई है। ऐसे में राज्य में भाजपा नेता और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने बयान दिया है कि अगर हमारे नंबर एक या नंबर दो का आदेश हुआ तो 24 घंटे भी आपकी सरकार नहीं चलेगी। 

इस पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा, 'आपके ऊपर वाले नंबर-1 और दो समझदार हैं, इसलिए आदेश नहीं दे रहे। आप चाहें तो अविश्वास प्रस्ताव ले आएं।'

बता दें कि कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार के पतन के एक दिन बाद मध्य प्रदेश विधानसभा में मुख्यमंत्री कमलनाथ और विपक्ष के नेता गोपाल भार्गव के बीच तनातनी देखने को मिली।

इस दौरान विधानसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि उनकी सरकार अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश विधानसभा में कांग्रेस के विधायक बिकाऊ नहीं हैं। हम पूरी ताकत और लगन के साथ काम करेंगे। यह सरकार मध्य प्रदेश के विकास को सुनिश्चित करेगी।

मुख्यमंत्री कमलनाथ विधानसभा को संबोधित कर रहे थे। उसी दौरान भारतीय जनता पार्टी के नेता गोपाल भार्गव ने उन्हे बीच में ही रोकते हुए कहा कि अगर नंबर एक या नंबर दो की तरफ से आदेश आता है, तो यह सरकार एक दिन भी नहीं चल पाएगी।

इस गतिरोध के पीछे का करण पूर्व मुख्यमंत्री शिवजाज सिंह का बयान था, जिसमें उन्होंने कहा था कि राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस में आंतरिक संघर्ष चल रहा है। कांग्रेस के लिए बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और समाजवादी पार्टी (सपा) का समर्थन लेकर सरकार बनाने की बजह से सब कुछ ठीक नहीं है।

दरअसल, एचडी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली कांग्रेस-जेडीएस सरकार के कर्नाटक विधानसभा में विश्वास मत हारने के तुरंत बाद शिवराज सिंह चौहान बयान दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता अपनी सरकारों के पतन के लिए खुद जिम्मेदार हैं। हम मध्य प्रदेश सरकार के पतन का कारण नहीं बनेंगे। कांग्रेस के नेता अपनी सरकारों के पतन के लिए स्वयं जिम्मेदार हैं।