About Me

header ads

कोलकाता में डॉक्टरों के साथ मारपीट के विरोध में IMA की देशव्यापी हड़ताल आज


कोलकाता में जिस तरह से डॉक्टरों के साथ मारपीट हुई थी, उसके बाद तमाम डॉक्टर हड़ताल पर थे. डॉक्टरों के साथ मारपीट के विरोध में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने भी आज एक दिन की हड़ताल का ऐलान किया है. लेकिन इस हड़ताल में एम्स के डॉक्टर शामिल नहीं होंगे. एम्स के डॉक्टर आज 8 बजे से लेकर 9 बजे तक अपना विरोध प्रदर्शन करेंगे. एम्स की ओर से कहा गया है कि कोलकाता में जो हुआ है उसपर उनकी नजर है और उन्हें उम्मीद है कि डॉक्टरों की मांग को सरकार मान लेगी.

बता दें कि आज दोपहर तीन बजे तमाम प्रदर्शनकारी डॉक्टरों की ममता बनर्जी से मुलाकात होगी. मुख्यमंत्री आवास पर ममता बनर्जी से 14 कॉलेजों के प्रतिनिधि छात्र मुलाकात करेंगे, गौर करने वाली बात यह है कि मीडिया को यहां आने की अनुमति नहीं दी गई है. बता दें कि पश्चिम बंगाल में जूनियर डॉक्टरों के साथ हुई कथित मारपीट के विरोध में दिल्ली स्थित एम्स के रेजिडेंट डॉक्टर्स ने 17 जून को हड़ताल पर जाने का ऐलान किया था. लेकिन राहत की बात यह है कि एम्स के डॉक्टरों ने अपनी हड़ताल वापस ले ली है. वह आज 9 बजे काम पर वापस लौटेंगे. इस संबंध में एम्स प्रशासन की ओर से एक प्रेस रिलीज जारी की गई है. ये डॉक्टर 14 जून से पश्चिम बंगाल के डॉक्टरों पर हुए हमले के विरोध में हड़ताल पर थे.

गौरतलब है कि आज देशभर के डॉक्टर हड़ताल करेंगे. इस दौरान ओपीडी सेवा बाधित रहेगी. लेकिन इमरजेंसी सेवाएं जारी रहेंगी. इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) ने प्रेस रिलीज जारी कर कहा कि हम अस्पतालों में डॉक्टरों की सुरक्षा चाहते हैं. आईएमए ने कहा है कि हम चाहते हैं कि कोलकाता में हुई हिंसा के आरोपियों को सजा मिले. अस्पतालों में हिंसा के खिलाफ केंद्रीय कानून लागू करने की मांग की जा रही है. आईएमए ने प्रेस रिलीज जारी कर कहा है कि 17 जून को पूरे देश में हड़ताल की जाएगी, इस दौरान सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं जारी रहेंगी.