About Me

header ads

ममता बनर्जी का दावा, बीजेपी बंगाल में फैला रही है हिंसा


पश्चिम बंगाल चुनाव के बाद भी हिंसा से लगातार जूझ रहा है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को भाजपा पर निशाना साधा और राज्य में अशांति फैलाने के लिए दंगे भड़काने का आरोप लगाया. उन्होने कहा कि, यह (पश्चिम बंगाल में हिंसा भड़काना) एक तैयार किया हुआ खेल है. यह मेरी आवाज को विफल करने के लिए उनका गेम प्लान है क्योंकि वे जानते हैं कि ममता बनर्जी देश में एकमात्र व्यक्ति हैं जो उनके खिलाफ आवाज उठा रही है. हमारी सरकार गिराने की उनकी यह साजिश सफल नहीं होगी. 

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सुप्रीमो ने इस हिंसा को लेकर गृह मंत्रालय को आड़े हाथों लिया. संवाददाताओं से बात करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि, चूंकि मैं ही केवल एक हूं जो उनके खतरनाक गेम प्लान को उजागर कर रही हूं, जिसके चलते वे सलाहाकार भेज रहे हैं. हमारे मुख्य सचिव ने इसका जवाब दिया है. भाजपा लोकतंत्र को बेचने की कोशिश कर रही है. केवल दो या तीन घटनाएं (हिंसा की) हुई हैं, जिन्हें भाजपा ने अंजाम दिया है.

उन्होंने कहा कि,भाजपा नेताओं ने दावा किया कि पांच लोगों की मौत हो गई है, लेकिन उनके दो समर्थकों की मौत हो गई है. वे दार्जिलिंग और बंगाल में अशांति फैलाने की कोशिश कर रहे हैं. बनर्जी ने यह भी दावा किया कि भगवा पार्टी टीएमसी सरकार को गिराने की कोशिश कर रही है क्योंकि वह केंद्र के खिलाफ बोलने वाली अकेली आवाज हैं. बीजेपी सरकार को गिराने और मुझे उनके खिलाफ बोलने से रोकने की योजना बना रही है. उसने कहा, यह नहीं होगा.

ममता ने साफ किया कि 2021 में विधानसभा चुनाव होंगे और भाजपा असफल होगी. याद रखें, एक घायल बाघ अधिक खतरनाक होता है. मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी राज्य में हिंसा या दंगा होने की स्थिति में केंद्र की भी राज्य सरकारों के बराबर जिम्मेदारी होती है. अगर किसी भी राज्य में कोई दंगा या हिंसा होती है, तो केंद्र सरकार अपनी जिम्मेदारी से नहीं हट सकती है. उन्होंने आरोप लगाया कि, उत्तर प्रदेश में मतदान के बाद 25 लोगों की मौत हो गई है. राज्य के रूप में बंगाल का प्रदर्शन देश में सर्वश्रेष्ठ है. यहां पर महिलाएं रात को घूम सकती हैं. लेकिन बंगाल के बारे में झूठ फैलाया जा रहा है. उन्हें बंगाल का अपमान न करने दें.