About Me

header ads

इनकम टैक्स स्लैब में हो सकते हैं ये बदलाव


मोदी सरकार अपने दूसरे कार्यकाल में नौकरीपेशा लोगों को बड़ा तोहफा दे सकती है. 5 जुलाई को पेश होने वाले बजट सत्र के दौरान लाखों नौकरीपेशा लोगों को बड़ी राहत मिलने की उम्मीद है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इनकम टैक्स की छूट सीमा में बढ़ोतरी की जा सकती है. छूट के दायरे को बढ़ाकर 5 लाख रुपए किया जा सकता है. वित्त मंत्रालय के सूत्रों की माने तो इनकम टैक्स में छूट के दायरे को 2.5 लाख रुपए से बढ़ाकर 5 लाख रुपए किया जा सकता है.

भारतीय उद्योग जगत ने सरकार से व्यक्तिगत आयकर छूट की सीमा को 2.50 लाख रुपए से बढ़ाकर पांच लाख रुपए करने की मांग की है. एसोचैम ने महंगाई का हवाला देते हुए इनकम की सीमा को 2.50 लाख रुपये से बढ़ाकर 5 लाख रुपये करने का सुझाव दिया है. 

सूत्रों की माने तो इनकम टैक्स छूट सीमा को सीधे 5 लाख करने की तैयारी है. इसका मतलब ये कि टैक्स स्लैब में बदलाव किया जा सकता है. लोकसभा चुनाव से पहले पेश किए गए अंतरिम बजट में 5 लाख रुपए तक को टैक्स स्लैब से बाहर रखा गया. ऐसे लोग जिनकी सालाना आय 6.5 लाख रुपए तक है और उन्होंने जीवन बीमा, पांच साल की सावधि जमा तथा अन्य कर बचत वाली योजनाओं ली हुई है उन्हें भी पूरी आय पर छूट मिल देने की बात कही गई, लेकिन टैक्स स्लैब में कोई बदलाव नहीं हुआ.