भाजपा ने राणाघाट लोकसभा क्षेत्र से बदला अपना प्रत्याशी


कोलकाता । भाजपा ने  नदिया जिले के राणाघाट लोकसभा क्षेत्र से प्रत्याशी बदल दिया है। यहां पहले घोषित किए गए प्रत्याशी डॉ. मुकुटमणि अधिकारी की जगह अब जगन्नाथ सरकार चुनाव लड़ेंगे। अधिकारी के नामांकन को चुनाव आयोग ने खारिज कर दिया है जिसकी वजह से यहां प्रत्याशी बदला गया है। उन्होंने नौ अप्रैल को नामांकन किया था। पार्टी की तरफ से बताया गया है कि जगन्नाथ सरकार को अब चुनाव चिन्ह प्रदान किया जा सकता है। जगन्नाथ सरकार नदिया दक्षिण जिला भाजपा के अध्यक्ष हैं।
उल्लेखनीय है कि भाजपा ने इस सीट से डॉ. मुकुटमणि अधिकारी को उम्मीदवार घोषित किया था। दीवार लेखन के साथ जोर-शोर से उनका प्रचार भी चल रहा था, लेकिन चुनाव आयोग ने जांच में उनका नामांकन पत्र रद्द कर दिया। बताया गया है कि डॉ. मुकुटमणि अधिकारी राज्य सरकार के स्वास्थ्य केंद्र में डाक्टर हैं। सरकारी पद पर कार्यरत होने के कारण उनका नामांकन पत्र रद्द कर दिया गया। बताया गया है कि उसी दिन जगन्नाथ सरकार ने भी इस सीट से उम्मीदवारी के लिए नामांकन किया था। घोषित उम्मीदवार का नामांकन रद्द होने के बाद भाजपा ने जगन्नाथ सरकार को अपना चुनाव चिन्ह प्रदान करने का निर्णय किया है। दरअसल भाजपा को पहले से ही डॉ. मुकुटमणि अधिकारी के नामांकन पत्र रद्द होने की आशंका थी। इसलिए पार्टी ने विकल्प के रूप में जगन्नाथ सरकार द्वारा इस सीट से नामांकन कराया था। इस बारे में प्रदेश भाजपा की इलेक्शन मैनेजमेंट कमेटी के सदस्य शिशिर बाजोरिया ने कहा कि डॉ. मुकुटमणि अधिकारी ने पद से इस्तीफा दे दिया था, लेकिन राज्य सरकार ने उसे जानबूझ कर स्वीकार नहीं किया। उन्होंने आरोप लगाया कि डॉ. मुकुटमणि अधिकारी अस्थायी डाक्टर के रूप में कार्यरत थे, जबकि राज्य सरकार ने उन्हें स्थायी डाक्टर बताकर उनका इस्तीफा स्वीकार करने से इन्कार कर दिया। ऐसी स्थिति में डॉ. मुकुटमणि अधिकारी का नामांकन पत्र रद्द हो गया। सूचना है कि भाजपा ने इस सीट पर विकल्प के रूप में दो और उम्मीदवारों अर्थात कुल चार लोगों से पर्चा दाखिल कराया था। अन्य दो लोगों में सुदीप विश्वास व मानवेंद्र राय के नाम शामिल हैं। अंतत: भाजपा ने जगन्नाथ सरकार को उम्मीदवार बनाने के लिए चुनाव चिन्ह प्रदान करने का निर्णय किया है।