रेप के दोषी ने आठ साल बाद जेल में भरी पीड़िता की मांग



ट्रायल कोर्ट के आदेश पर हुई शादी

पुरुलिया: कहते हैं की देर से ही समझ आये लेकिन दुरुस्त आये। रेप के दोषी एक शख्स ने पीड़ित से शादी कर ली है। लेकिन सादी के लिये पीड़िता को तमाम तकलीफें सहते हुए आठ साल का लम्बा इंतजार करना पड़ा । इस दौररान उसका बेटा भी बड़ा हो गया था।  पिछले 8 साल से पीड़ित लड़की इस बात की मांग कर रही थी कि दोषी उसके साथ शादी करे। ट्रायल कोर्ट के आदेश के बाद  पुरुलिया जेल के अंदर दोनों की शादी हुई। 29 दिसंबर 2016 को रेप के मामले में इस शख्स को अपराध कोर्ट में साबित हुआ था।  रेप की इस घटना के बाद पीड़ित लड़की ने एक बच्चे को भी जन्म दिया। बच्चे को जन्म देने के 2 महीने बाद साल 2010 में पुलिस ने 30 साल के दोषी मनोज बारी को रेप और धोखाधड़ी के मामले में गिरफ्तार किया था। जब पीड़ित को पता चला कि वह गर्भवती है तभी से वह मनोज से शादी करने के लिए कह रही थी। लेकिन मनोज ने उसकी बात नहीं मानी। मामले पर बातक रने पर पीड़ित महिला ने कहा, 'मैं किसी भी स्कूल में अपने बेटे का ऐडमिशन नहीं करवा सकती थी क्योंकि मेरे पास उसके पिता की पहचान का कोई भी आधिकारिक कागज नहीं था।' कैर जो भी हो लेकिन माना जा रहा है कि लम्बे इंतजार के बाद ही सही न्याय तो मिला।