जयललिता के अंतिम दर्शन के लिए उमड़े लोग, मरीना बीच पर होगा अंतिम संस्कार






तमिलनाडु की मुख्यमंत्री और एआईएडीएमके पार्टी की प्रमुख जे. जयललिता का सोमवार रात निधन हो गया. अपोलो अस्पताल के मुताबिक, जयललिता ने रात 11:30 बजे अंतिम सांस ली और उसके बाद उनका लाइफ सपोर्ट सिस्टम हटा लिया गया. जयललिता के निधन से पूरा देश सदमे में है. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पीएम मोदी समेत तमाम लोगों ने उनके निधन पर शोक जताया है. पीएम मोदी ने चेन्नई जाकर राजाजी हॉल में जयललिता को श्रद्धांजलि दी.






श्रद्धांजलि देने उमड़े लोग
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी जयललिता को श्रद्धांजलि देने के लिए चेन्नई जा रहे थे लेकिन तकनीकी खराबी के चलते उनका विमान वापस लौट आया. थोड़ी देर बाद फिर राष्ट्रपति चेन्नई के लिए रवाना होंगे. फिल्म स्टार रजनीकांत ने भी जयललिता को श्रद्धांजलि दी. राजाजी हॉल में जयललिता का पार्थिव शरीर रखा गया है. अपने प्रिय नेता के अंतिम दर्शन के लिए बड़ी तादाद में लोग उमड़ पड़े हैं. राजाजी हॉल के बाहर समर्थक बड़ी संख्या में जुटे हुए हैं. बेकाबू भीड़  को काबू करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज भी करनी पड़ी.

तमिलनाडु में 7 दिन का राजकीय शोक
रात 11:30 बजे जयललिता ने अंतिम सांस ली. चेन्नई में अम्मा के समर्थकों ने अपोलो हॉस्पिटल के बाहर हंगामा किया, ऐसे में हालात को काबू में करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया. केंद्र सरकार ने एक दिन का शोक घोषित किया है वहीं तमिलनाडु में 7 दिन का राजकीय शोक घोषित किया गया है.


मरीना बीच पर होगा अंतिम संस्कार
जयललिता का अंतिम संस्कार मंगलवार शाम 4:30 बजे को मरीना बीच पर किया जाएगा. अंतिम दर्शन के लिए उनका पार्थिव शरीर राजाजी हॉल में रखा गया है. लोग सुबह से ही अपनी लोकप्रिय नेता के अंतिम दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं. इससे पहले शाम में जयललिता के निधन की अटकलें चली थीं, जिसे अपोलो अस्पताल ने तुरंत खा‍रिज कर दिया था. तमिल चैनलों ने जयललिता के निधन की खबर दी थी.
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी चेन्नई पहुंचेंगे. पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा जयललिता के अंतिम संस्कार में शामिल होंगे. दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल भी चेन्नई जाएंगे. केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू अंतिम संस्कार में शामिल होंगे. वे चेन्नई में हैं.