Sunday, June 12, 2016

हिलेरी का समर्थन करने पर ओबामा पर बरसे डोनाल्ड ट्रंप


रिचमंड: राष्ट्रपति पद के चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी के संभावित उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रम्प ने राष्ट्रपति बराक ओबामा की यह कहकर ओलाचना की है कि वह डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवारी की दावेदार हिलेरी क्लिंटन का समर्थन कर रहे हैं। ट्रम्प ने कहा कि वह नवंबर में होने वाले चुनावों में हिलेरी का सामना करने के लिए तैयार हैं। बहरहाल, उनका दावा है कि इन चुनावों में वह अब तक के सर्वाधिक मतदाताओं को आकर्षित करेंगे।

रिचमंड में विशाल रिचमंड कॉलिजीयम में आयोजित एक चुनावी रैली में समर्थकों से ट्रम्प ने कहा, ‘‘आपके पास एक ऐसा राष्ट्रपति है जो ऐसे व्यक्ति का समर्थन कर रहा है जिसके खिलाफ आपराधिक मामले में जांच चल रही है। क्या हमारे देश में ऐसा होना चाहिए?’’ राष्ट्रपति ओबामा द्वारा डेमोकेट्रिक पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार के तौर पर वरमोंट से सीनेटर बर्नी सैंडर्स के बजाय हिलेरी का समर्थन करने के बाद ट्रम्प की यह पहली सार्वजनिक जनसभा थी। उन्होंने कहा कि वह सोमवार को न्यू हैम्पशायर में हिलेरी पर प्रभावी नीतिगत भाषण देंगे। अपने समर्थकों में जोश भरते हुए ट्रम्प ने इसे ‘‘धूर्त हिलेरी’’ का भाषण बताया।

ट्रम्प ने उन हालिया खबरों का हवाला दिया जिनमें यह कहा गया था कि भारतीय अमेरिकी राजीव फर्नांडो को अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बोर्ड में महत्वपूर्ण पद पर इसलिए नियुक्त किया गया क्योंकि उन्होंने कथित तौर पर क्लिंटन फाउंडेशन में भारी भरकम राशि का दान दिया था। उन्होंने कहा, ‘‘बहुत भ्रष्टाचार है। अगर प्रणाली काम करती तो उन्हें कभी चुनाव लड़ने की मंजूरी नहीं मिलती। वाकई में यह अन्य लोगों के साथ अन्याय है।’’ यह सलाहकार बोर्ड अमेरिका के विदेश मंत्रालय को परमाणु हथियारों एवं राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े अन्य मुद्दों पर सलाह देता है। शिकागो के रहने वाले फर्नांडो ‘चॉपर ट्रेडिंग’ के एक प्रतिभूति कारोबार अध्यक्ष हैं।एबीसी न्यूज के अनुसार, फर्नांडो ओबामा के चुनाव प्रचार अभियान में एक प्रमुख दानदाता थे। उन्होंने ओबामा के दूसरे कार्यकाल के चुनाव के लिए पांच लाख अमेरिकी डॉलर से अधिक की राशि जुटाई थी और विदेश मंत्रालय में अपनी नियुक्ति से पहले उन्होंने विलियम जे क्लिंटन फाउंडेशन को एक लाख अमेरिकी डॉलर और ढाई लाख अमेरिकी डॉलर की राशि दी थी। ट्रम्प ने इसे हिलेरी क्लिंटन का एक और भ्रष्टाचार बताते हुए कहा, ‘‘उन्होंने (राजीव फर्नांडो) ढाई लाख अमेरिकी डॉलर की राशि का योगदान दिया और अचानक वह एक बेहद अहम और प्रमुख बोर्ड में शामिल हो गए।’’ उन्होंने कहा कि हिलेरी के खिलाफ उनकी बहस इतिहास में अब तक की सबसे ‘‘बड़ी बहस’’ होगी और देश के इतिहास में यह ‘‘सबसे बड़ा मतदान’’ होगा।

ट्रम्प ने आरोप लगाया कि चीन और मेक्सिको जैसे देश अमेरिका के लिए खतरा हैं। उन्होंने दोहराया कि वह मेक्सिको सीमा पर दीवार खड़ी कर देंगे और कहा, ‘‘एक दिन लोग इसे ट्रम्प दीवार कहेंगे, जो एक मजबूत, उंची और खूबसूरत दीवार होगी।’’ उन्होंने कहा कि उनके प्रशासन में बहुत कम कर होगा और वह टैक्स कोड को आसान बनाएंगे जबकि हिलेरी किसी की कल्पना से भी अधिक कर की उगाही करने वाली हैं। ट्रम्प ने हिलेरी के ‘‘कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद’’ संदर्भ का इस्तेमाल नहीं करने पर उनकी आलोचना करते हुए कहा कि वह ऐसा इसलिए कर रही हैं क्योंकि वह ओबामा को नाराज नहीं करना चाहतीं और वह जेल नहीं जाना चाहतीं। प्रणाली में बहुत गड़बड़ी है जिसे बर्नी ने पहचाना था।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर हमारे पास बंदूकें हों और गोलियां विपरीत दिशा में चलाई जाएं तो कोई व्यक्ति मारा नहीं जाएगा।’’ उन्होंने कहा कि हम एक बार फिर जीतने जा रहे हैं ओर आईएसआईएस का खात्मा करने वाले हैं। हम कारोबार में विजय प्राप्त करने वाले हैं और सुप्रीम कोर्ट में जीत दर्ज करने वाले रहे हैं.. आप इतनी अधिक जीत दर्ज करने वाले हैं जिसके आप हकदार हैं और जिस जीत से आप महरूम थे। बस.. जीत.. जीत.. और जीत..।’’ ट्रम्प के चुनाव अभियान के वरिष्ठ नीति सलाहकार स्टीफन मिलर ने आरोप लगाया कि विदेश मंत्री के तौर रहते हुए हिलेरी क्लिंटन ने क्लिंटन फाउंडेशन को 50 लाख डॉलर की राशि का भुगतान करने वाले व्यक्ति को परमाणु सुरक्षा से जुड़े अहम राष्ट्रीय सुरक्षा पद पर नियुक्त किया था।