Thursday, May 12, 2016

केरल में ‘ड्रामेबाजी’ कर रही हैं कांग्रेस, कम्युनिस्ट पार्टियां: मोदी

 

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल में कांग्रेस और कम्युनिस्ट पार्टियों पर बुधवार को आरोप लगाया कि वे लोगों की सेवा करने के बजाए एक दूसरे की सेवा करके ‘ड्रामाबाजी’ कर रहीं हैं. मोदी ने उनकी आलोचना करते हुए कहा कि कांग्रेस भ्रष्टाचार में गहराई तक डूबी हुई है तो कम्युनिस्ट पार्टियों का संबंध हिंसा से है.

पीएम मोदी ने त्रिपुनिथुरा में एक चुनाव रैली में लोगों की भारी भीड़ के बीच कहा कि ये दोनों पार्टियां केरल में ‘ड्रामाबाजी’ कर रही हैं. वे जरूरत के समय एक दूसरे की मदद करती हैं और तीसरी ताकत को पैदा नहीं होने देना चाहती. मोदी ने 16 मई को होने वाले विधानसभा चुनावों में प्रचार मुहिम के दूसरे एवं अंतिम चरण का समापन करते हुए आरोप लगाया कि ये पार्टियां लोगों की सेवा नहीं कर रहीं बल्कि ‘‘एक दूसरे की सेवा’’ कर रही है.

उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस नीत यूडीएफ और माकपा नीत एलडीएफ जरूरत के समय एक दूसरे की मदद करती हैं. मोदी ने दशकों से राज्य पर शासन कर रहे दोनों मोर्चों का जिक्र करते हुए कहा कि कांग्रेस और कम्युनिटों के बीच एक समझौता है. वे नहीं चाहते कि कोई तीसरी ताकत केरल के लिए काम करे. उन्होंने कहा कि कांग्रेस और कम्युनिस्ट पार्टियों के बीच सम-विषम की तरह एक करार है. पांच साल कांग्रेस सत्ता में रहेगी और अगले पांच साल कम्युनिस्ट सत्ता में रहेंगे.

मतदाताओं को मूर्ख बनाया जा रहा है
मोदी ने कहा कि यूडीएफ और एलडीएफ यहां शिक्षित मतदाताओं को मूर्ख बना रहे हैं. उन्होंने कहा कि आप यह क्यों नहीं समझते हैं? मोदी ने पश्चिम बंगाल में कांग्रेस-माकपा गठजोड़ की ओर इशारा करते हुए कहा कि उन्होंने ऐसी छवि बनाई है कि वे अलग-अलग दल हैं. ये पार्टियां अलग नहीं है. वे एक ही हैं. प्रधानमंत्री ने कहा कि जब कांग्रेस को केंद्र में मदद की आवश्यकता थी तो कम्युनिस्टों ने उन्हें समर्थन दिया.