Sunday, May 15, 2016

रघुराम राजन ने कहा- भारत में भ्रष्टाचार में कमी आयी


लंदन: भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन ने आज कहा कि उन्होंने पाया कि भारत में अपना आयकर रिटर्न भरना अमेरिका की तुलना में कहीं आसान है। उन्होंने शिकागो बूथ स्कूल ऑफ बिजनेस में एक संवाद में यह बात कही। ‘मैंने पाया कि मेरे लिए भारत में आयकर रिटर्न दाखिल करना अमेरिका में अपना आयकर दाखिल करने से अधिक आसान है।’ भारत में भ्रष्टाचार संबंधी एक सवाल पर उन्होंने कहा कि देश में इसमें बहुत कमी आई है। उन्होंने इसके लिए रेलवे टिकटिंग व कर विभाग का उदाहरण दिया।

उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि प्रौद्योगिकी ने मदद की है। उदाहरण के लिए हमने आटोमेटेड रेलवे टिकटिंग शुरू की और वहां भ्रष्टाचार में बहुत कमी आई। अब दलाल सारी टिकटों पर कब्जा कर उन्हें अलग से नहीं बेचते। आयकर विभाग का भी आटोमेशन किया गया है।’ उन्होंने कहा, ‘आपको अपना धन वापस पाने के लिए आयकर निरीक्षक के पास नहीं जाना पड़ता। मैंने पाया कि मेरे लिए भारत में आयकर रिटर्न दाखिल करना अमेरिका में आयकर दाखिल करने से अधिक आसान है।’

राजन ने कहा कि भारत में भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज तेज हुई है। ‘‘हमारे पास स्वतंत्र मीडिया है जो कि इस तरह की घटनाओं को उजागर करने का प्रयास करता है। हमारे पास ऐसी जनता है जो कि भ्रष्टाचार से तंग आ चुकी है। मेरा मानना है कि सरकार ने आवंटन और ठेकों में पारदर्शिता बढ़ाने के लिये कई कदम उठाये हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह पिछले कुछ सालों की प्रक्रिया है। मुझे लगता है कि हम पहले से काफी बेहतर स्थिति में हैं। इस तरह बड़े पैमाने पर जो भ्रष्टाचार था उसमें कमी आई है। क्या भ्रष्टाचार पूरी तरह समाप्त हो गया है? सही मायनों में नहीं। इस दिशा में अभी काफी कुछ किया जाना बाकी है।’'