Saturday, May 28, 2016

राष्ट्रगान के दौरान फोन पर बात करने पर फारूक ने मांगी माफी


कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का शपथ ग्रहण समारोह खत्म होने के बाद राष्ट्रगान के दौरान फोन पर बात करने पर जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने शनिवार को माफी मांगी है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रगान के दौरान वह खड़े हुए थे, लेकिन फोन पर बात कर रहे थे, जो उन्हें नहीं करना चाहिए था। इसके लिए वह माफी मांगते हैं।

दूसरी ओर शनिवार को भाजपा ने फारूक पर हमला करते हुए पूछा कि क्या राष्ट्रगान के समय वह अलगाववादियों से बात कर रहे थे? भाजपा नेता शायना एनसी ने ट्वीट करते हुए पूछा-जाहिर है वह राष्ट्रगान पर ध्यान देने के बजाय फोन पर बात करने में व्यस्त थे। मैं पूछती हूं कि क्या वह अलगाववादियों से बात कर यह जानने की कोशिश कर रहे थे कि उनका राष्ट्रगान आखिर है क्या?

वहीं राष्ट्रगान के मसले पर बढ़ते विवाद पर फारूक ने कहा-"मैं राष्ट्रगान के वक्त खड़ा था, लेकिन अगर मेरे व्यवहार से किसी को ठेस पहुंची है तो मैं माफी मांगता हूं।" गौरतलब है कि शुक्रवार को रेड रोड पर शपथ ग्रहण के बाद जब राष्ट्रगान शुरू हुआ तो सभी नेता और वहां मौजूद लोग खड़े हो गए थे। इस दौरान फारूक अब्दुल्ला फोन पर बात करते रहे।