Friday, February 5, 2016

सीरिया को 10 अरब डॉलर की मदद


सीरिया को अनुदान देने वाले देशों ने उसे 10 अरब डॉलर की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है. लंदन में हुई इस बैठक के बाद ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने ये जानकारी दी. उन्होंने कहा कि ये अनुदान सीरिया में रह रहे कई लोगों को ख़ाना, दवाई और रहने की जगह मुहैया करा पाएगा. पड़ोसी देशों में रह रहे शरणार्थियों के लिए स्कूल जाने और नौकरी के कई अवसर भी बनेंगे.

सीरिया के एलैपो में चल रही भीषण लड़ाई की वजह से कई हज़ार लोग अब तक पलायन कर चुके हैं. तुर्की के प्रधानमंत्री अहमत दोवूतोगलू के अनुसार क़रीब 70 हज़ार सीरियाई उनकी देश की सीमा की तरफ बढ़ रहे हैं.

कैमरन ने कहा कि इस वर्ष के अंत तक सीरिया को 6 अरब डॉलर की राशि दे दी जाएगी और बाकी के 5 अरब डॉलर की राशि 2020 तक किश्तों में दी जाएगी. उन्होंने कहा कि तुर्की, जॉर्डन और लेबनान जो क़रीब 46 लाख शरणार्थियों को शरण दे रहे हैं उन्होंने बच्चों को शिक्षा मुहैया कराने का वादा किया है.

कैमरन ने कहा, "अंतरराष्ट्रीय यूनियन बच्चों को शिक्षित करने में उनकी मुहिम का समर्थन कर रहा है." अनके अनुसार इस साल के अंत तक 10 लाख शरणार्थी बच्चों को बुनियादी शिक्षा दिला दी जाएगी. यूरोपियन संघ का कहना है कि वो इस साल तक सीरिया को 3.3 अरब डॉलर की मदद करेगा और अगले साल भी इतनी राशि देने की कोशिश करेगा.

वहीं ब्रिटेन ने 2020 तक 1.7 अरब डॉलर, जर्मनी ने 2018 तक 2.6 अरब डॉलर, फ्रांस ने 1 अरब डॉलर और अमरीका ने 2016 के अंत तक 92.50 करोड़ डॉलर की सहायता करने का वादा किया है. इस साल के अंत तक सीरिया की मदद करने के लिए 7.7 अरब डॉलर की सहायत राशि जुटाने का लक्ष्य रखा गया है.

हालांकि इस बैठक में मौजूद 30 देशों के नेताओं ने उम्मीद जताई है कि ये सहायता राशि 9 अरब डॉलर तक पहुंच सकती है.