Saturday, January 16, 2016

'स्वभाविक नहीं थी सुनंदा पुष्कर की मौत'


नई दिल्ली : पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत स्वाभाविक नहीं थी, लेकिन उनके शरीर में कोई रेडियोएक्टिव तत्व नहीं पाया गया है। दिल्ली पुलिस आयुक्त बीएस बस्सी ने शुक्रवार को सुनंदा के विसरा नमूने पर एफबीआई की रिपोर्ट का विश्लेषण करने वाली एम्स की रिपोर्ट के आधार पर यह जानकारी दी। 

बस्सी ने कहा कि इस बहुचर्चित मामले को कानूनी निष्कर्ष तक पहुंचाया जाएगा और इसके लिए सभी संभावित कोणों से तहकीकात की जाएगी। उन्होंने बताया कि जांच और सबूतों के आधार पर एक बात स्पष्ट तौर पर कही जा सकती है कि सुनंदा की मौत प्राकृतिक नहीं थी। पहले आशंका जताई जा रही है कि सुनंदा की मौत शरीर में रेडियोएक्टिव तत्वों के कारण बने जहर के कारण हुई। 

बस्सी ने कहा कि मेडिकल बोर्ड ने 11 पेज की रिपोर्ट सौंपी है, जिसका अध्ययन किया जाना है। पुलिस आयुक्त के मुताबिक, बोर्ड ने कुछ निष्कर्ष निकाले हैं और उनकी अब तहकीकात की जानी है। शरीर में जहर मिलने के सवाल का सीधा जवाब न देते हुए पुलिस आयुक्त ने संकेत दिया कि एफबीआई लैब ने कुछ अन्य रसायनों की मौजूदगी पाई थी, जिस पर मेडिकल बोर्ड ने अपने निष्कर्ष दिए हैं, जिनकी जांच जारी है। 

01 जनवरी 2015 में हत्या का केस दर्ज हुआ
दिल्ली पुलिस ने एम्स से 29 दिसंबर 2014 को अंतिम पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद सुनंदा की हत्या का मामला दर्ज किया था। एम्स के मेडिकल बोर्ड ने तब सुनंदा की मौत का कारण जहर बताया था। हालांकि एम्स के डाॠक्टर सुधीर गुप्ता ने रेडियोएक्टिव तत्व पोलोनियम से संभवत: सुनंदा की मौत होने की बात कहकर सनसनी फैला दी थी। इसके बाद पुलिस ने उसके विसरा नमूने को वाशिंगटन स्थित एफबीआई लैब भेज दिया था। 

एफबीआई ने दो माह पहले रिपोर्ट दी
एफबीआई ने दो माह पहले दिल्ली पुलिस को अपनी जांच रिपोर्ट सौंप दी थी। रिपोर्ट में कहा गया है कि सुनंदा के विसरा के नमूने में विकिरण का स्तर सुरक्षित मानकों की मात्रा की सीमा में है। चूंकि पुलिस एफबीआई की रिपोर्ट के आधार पर मौत के कारण तक नहीं पहुंच सकी तो उसे रिपोर्ट का विश्लेषण करने के लिए एम्स के मेडिकल बोर्ड से इसका अध्ययन करने का अनुरोध किया। 

मौत से एक दिन पहले मेहर तरार से झगड़ा
51 वर्षीय सुनंदा का मौत के एक दिन पहले ट्विटर पर पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार से झगड़ा हुआ था। सुनंदा ने मेहर तरार पर थरूर से नजदीकियां बढ़ाने का आरोप लगाया था, जिसको लेकर दोनों के बीच तीखी बहस हुई थी। सुनंदा की मौत को लेकर आईपीएल में कोच्चि टीम की हिस्सेदारी से भी जोड़ कर देखा जाता रहा है। सुनंदा पुष्कर और शशि थरूर की शादी अगस्त 2010 में हुई थी। दोनों का यह तीसरा विवाह था।