Tuesday, December 22, 2015

उड़ान भरते ही क्रैश हुआ बीएसएफ का सुपरकिंग प्लेन, 10 लोगों की मौत


नई दिल्ली : दिल्ली से रांची जा रहा बीएसएफ का चार्टर प्लेन हादसे का शिकार हो गया है। विमान में पायलट और सहपायलट समेत कुल 10 लोग सवार थे। हादसे में सभी 10 लोगों की मृत्यु हो गई है। हादसा दिल्ली एयरपोर्ट के पास द्वारका के शाहबाद रेलवे ट्रैक के पास हुआ। इस विमान का कंट्रोल रूम से संपर्क टूट गया था।
प्लेन में बीएसएफ इंजीनियरिंग टीम के सात लोग सवार थे। जिन लोगों ने इस हादसे में अपनी जान गंवाई उनके नाम हैं- पायलट राजेश शिवरेन, पायलट बीपी भट्ट, इंस्पेक्टर आरपी यादव, डिप्टी कमांडेंट डी कुमार, इंस्पेक्टर एसएन शर्मा, एसआई रविंद्र कुमार, एसआई छोटे लाल, एएसआई डीपी चौहान, एसआई सुंदर सिंह, कैप्टन के रावत।
 संवाददाताओं के मुताबिक विमान ने करीब 9.45 बजे उड़ान भरी थी लेकिन पांच मिनट बाद ही हादसा हो गया। हादसे को देख कर मौके पर भीड़ जमा हो गई और तत्काल पुलिस को सूचना दी गई। दमकल के पहुंचने तक स्थानीय लोग आग बुझाने की कोशिश करते दिखाई दिए।
गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि ये बहुत दुखद हादसा है। केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ने कहा कि हादसा क्यों हुआ इस बारे में पता किया जाएगा। ये हादसा बहुत दुखद है।
बीएसएफ का जो विमान हादसे का शिकार हुआ है उसका नाम सुपरकिंग है और ये काफी पुराना था। इस विमान में 11 लोगों के बैठने की जगह होती है। ये विमान 1982 में बीएसएफ को मिला था।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि उन्हें यहां चार्टर्ड विमान हादसे में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के 1० जवानों के मारे जाने की खबर सुनकर बहुत तकलीफ हुई। मोदी ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘दिल्ली में बीएफएस विमान दुर्घटना में जान गंवाने वालों के लिए तकलीफ हुई। मेरी संवेदनाएं शोकाकुल परिवारों के साथ हैं।’’
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यहां मंगलवार सुबह चार्टर्ड विमान दुर्घटना में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के सभी 1० जवानों की मौत होने की घटना पर शोक जताया। आम आदमी पार्टी (आप) के समन्वयक केजरीवाल ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘बीएसएफ विमान का दुर्घटनाग्रस्त होना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। हादसे में अपने प्रियजनों को खोने वाले परिवारों से मुझे दिली सहानुभूति है।’’