Tuesday, November 3, 2015

कर्नाटक के सीएम का सिर कलम करने की धमकी देने वाले बीजेपी नेता गिरफ्तार

शिमोगा (कर्नाटक) : कर्नाटक भाजपा के एक नेता ने अपने बयान से उस समय विवाद को हवा दे दी जब उन्होंने सार्वजनिक रूप से धमकी दी कि अगर कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया गोमांस खाने की हिम्मत करते हैं तो वह उनका सिर कलम कर देंगे। इसके बाद भाजपा नेता को भडकाउ और धमकी भरे बयान देने के लिए गिरफ्तार कर लिया गया।

पूर्ववर्ती शिवमोगा शहर नगर निकाय परिषद के पूर्व अध्यक्ष एस एन चन्नबसप्पा ने सोमवार शाम यह धमकी दी थी। उन्होंने यह टिप्पणी सिद्धरमैया के गोमांस खाने संबन्धी कथित बयान के विरोध में पार्टी की स्थानीय शाखा द्वारा आयोजित प्रदर्शन के दौरान की। 

चन्नबसप्पा ने कहा, आप गोमाता के गले पर हाथ रखने की हिम्मत कैसे कर सकते हैं आप खुलेआम तानाशाहीपूर्ण ढंग से कह रहे हैं कि आप गोमांस खायेंगे, अगर आपमें हिम्मत है तो यहां आयें, गोपी सर्किल (शिवमोगा) में आकर खायें और इसमें कोई शक नहीं होना चाहिए कि उसी दिन आपका सिर कलम कर दिया जायेगा।

उन्होंने कहा, क्या आप हिन्दुओं की भावनाओं के साथ खेल रहे हैं ऐसा नहीं करें। मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने इस बयान को उकसाने वाला करार दिया था। भाजपा नेता को आज गिरफ्तार कर लिया गया। 

पुलिस अधीक्षक रवि चन्नानवार ने कहा कि चन्नबसप्पा पर भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। इनमें भड़काउ भाषण देना, लोक सेवक को डयूटी का निर्वहन करने से रोकना, आपराधिक भयादोहन आदि से जुड़ी धाराएं 153, 353 और 506 शामिल हैं।

इसके पहले सिद्धरमैया ने कहा था, यह उकसाने वाला बयान है। मैं पुलिस से इसकी जांच करने को कहूंगा। अगर यह सच है तो वे निश्चित तौर पर कार्रवाई करेंगे।

यह पूछे जाने पर कि प्रदेश भाजपा के नेतागण ऐसे बयानों पर कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं कर रहे हैं, सिद्धरमैया ने कहा,  भाजपा के लोग इसके लिए ही जाने जाते हैं। इसलिए हम उनका विरोध कर रहे हैं। 

उन्होंने कहा, अगर मैं कहता हूं कि मैं खाउंगा तो इससे बहुसंख्यक समुदाय को क्या नुकसान है क्या हम दूसरे तरह का मांस नहीं खाते। खाने का तौर तरीका निजी पसंद का विषय है और उसे लोगों पर छोड़ देना चाहिए। इसमें किसी को हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए। यह संविधान के खिलाफ है। यह निजी आजादी के खिलाफ है। ऐसा नहीं किया जाना चाहिए।