Wednesday, October 21, 2015

फरीदाबाद में ज़िंदा जलाये गए दलितों के परिवार से मिले राहुल,सीबीआई जाँच की मांग

 नई दिल्ली: हरियाणा के फरीदाबाद के सुनपेड़ में एक दलित परिवार को जिंदा जलाने का मामला गरमाता जा रहा है। यहां नेताओं के आने-जाने का सिलसिला जारी है। बुधवार को पीड़ित परिवार से मिलने के लिए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पहुंचे। राहुल ने पीड़ित के पिता से मुलाकात की और हालचाल जाना। इससे पहले, सीपीएएम नेता वृंदा करात पीड़ित परिवार से मिली और उन्हें इंसाफ का भरोसा दिलाया।

राहुल गांधी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि दलित परिवार ने मुझसे पूछा कि उनके परिवार को क्यों जलाया गया। दलित परिवार ने अपना दर्द बताया। पीड़ित परिवार सीबीआई जांच चाहता है। कमजोर की कोई सुनवाई नहीं होती है। गरीबों पर अत्याचार हो रहा है। उनकी बस इतनी ही गलती है कि वे गरीब है।  उन्होंने कहा कि मैं सरकार से सीबीआई जांच को लेकर दबाव डालूंगा।
इस बीच पीड़ित परिवार ने सभी आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए गांव के बाहर बल्लभगढ़-फरीदाबाद हाइवे पर जाम लगा दिया है। ग्रामीणों ने बल्लभगढ़-फरीदाबाद हाइवे पर जाम लगा दिया। इस मामले में हुए ताजा घटनाक्रम में एसएचओ समेत 8 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है। साथ ही मामले की जांच के लिए एसआईटी भी गठित की गई है। मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।
हरियाणा के फरीदाबाद के पास सुनपेड़ गांव में मंगलवार सुबह कुछ लोगों ने एक दलित के घर में आग लगा दी थी। घटना में बुरी तरह झुलसे दो बच्चों ने दिल्ली के अस्पताल में दम तोड़ दिया। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, गांव के दबंगों पर पुरानी दुश्मनी के चलते इस वारदात को अंजाम देने का आरोप है। सोते समय घर जलाये जाने के बाद जल गयी दलित महिला रेखा यहां सफदरजंग अस्पताल के बर्न वार्ड में आईसीयू में जिंदगी के लिए संघर्ष कर रही है। महिला का इलाज कर रहे डॉक्टरों के मुताबिक उसकी हालत पर लगातार नजर रखी जा रही है।
घटना दिल्ली से सटे फरीदाबाद के सुनपेड गांव में देर रात के बाद घटी जब हमलावरों ने कथित तौर पर खिड़की से दलित परिवार के घर में पेट्रोल फेंककर आग लगा दी जिस समय घर में सभी सो रहे थे। गांव में उस समय पास में एक धार्मिक कार्यक्रम चल रहा था। पुलिस के एक प्रवक्ता के मुताबिक हत्या, दंगा भड़काने और अन्य आरोपों में 11 लोगों पर मामला दर्ज किया गया है जिनमें एक पिता-पुत्र शामिल हैं। आरोपियों में बलवंत, जगत, एदल, नौनिहाल, जोगिंदर, सूरज, आकाश, अमन, संजय, धर्म सिंह और देशराज शामिल हैं।